कहा जाता है कि, पति-पत्नी का रिश्ता बेहद खूबसूरत होता है और ये बंधन भी सात जन्मों का होता है. लेकिन बिहार के गया से एक ऐसा मामला सामने आया, जिसने शादी के सारे मायने ही बदल दिए है क्या आपने कभी ऐसा सुना है कि एक पत्नी ने अपने ही पति का खुद रिश्ता ले जाकर अपने ही सामने किसी और लड़की से शादी करा दी हो. जी हां आपने ठीक सुना…

बिहार के गया में एक शादी-शुदा जोड़े ने 13 लाख रूपए दहेज़ के लालच में अपनी शादी को एक डील में बदल दिया। पीड़िता ने अब महिला आयोग से मदद की गुहार लगाई है।

जरुर पढ़ें:  आगरा के पास हुआ बड़ा हादसा, 29 की गई जान मुख्यामंत्री योगी देंगे 5 लाख का मुआवजा

दरअसल, हुआ यूं कि- बांका जिले के बौसी का रहने वाला विनय रजक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की कुरसेलापुर, पूर्णिया ब्रांच में कैशियर है। अपने पति की मृत्यु के बाद प्रॉविडेंट फंड की रकम लेने अपनी बेटी ऋतु कुमारी के साथ बैंक पहुंची शोभा देवी ने जब कैशियर विनय को ये बात बताई की वे फंड की रकम को अपनी बेटी की शादी में देने वाली हैं.

तब ये बात सुनकर विनय के दिमाग में शोभा देवी और उनकी बेटी ऋतु को ठगने की बात आई. ये बात विनय ने अपनी पत्नी गुड़िया को बताई और फिर दोनों दंपत्ति ने मिलकर शोभा देवी को लूटने का प्लान बनाया. विनय ने खुद को अनाथ बताया और गुड़िया को पड़ोस की भाभी.

जरुर पढ़ें:  मलाइका की ड्रेस देख फैन्स ने किया ट्रोल, कहीं ऐसी बातें..

जिसके बाद गुड़िया ने शोभा देवी के साथ मेल-जोल बढ़ाकर विनय और ऋतु की शादी की बात रखी. शोभा देवी ने भी सावधानी न बरतते हुए अपनी बेटी ऋतु की शादी पास के ही एक मंदिर में विनय से करवा दी, शादी के अगले दिन विनय और गुड़िया ने बैंक से सारे पैसे निकलवा लिए और वंहा से रफूचक्कर हो गए.

जब सुबह का निकला विनय जब घर नहीं लौटा नहीं तो ऋतु और उसकी चारो बहनो ने जब सोशल मीडिया पर छानबीन की तो पता चला कि विनय के साथ आई महिला और कोई नहीं बल्कि विनय की पत्नी है, जिसे विनय ने पड़ोस की भाभी कहकर मिलवाया था.

जरुर पढ़ें:  35A के साथ छेड़छाड़ करने वाले का हाथ के साथ जिस्म भी जलेगा- महबूबा मुफ्ती

पुलिस में शिकायत करने पर शोभा देवी को दबंग धमकाने लगे और केस वापसी का दबाव बनाने लगे. आखिर में शोभा देवी को महिला आयोग से मदद की गुहार लगानी पड़ी. बिहार राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणि मिश्रा ने कहा कि मामला काफी गंभीर है. और हमारी पूरी कोशिश है, कि पीड़ित पक्ष को जल्द से जल्द इंसाफ मिले।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here