समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान की बीजेपी उम्मीदवार जयाप्रदा को लेकर की गई टिप्पणी पर विवाद रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है. जयाप्रदा पर की गई अमर्यादित टिप्पणी के चलते आजम खान के खिलाफ केस दर्ज हो गया है. वहीं महिला आयोग ने भी आजम खान को नोटिस भेज दिया है. साथ ही आजम खान की टिप्पणी से आहत जया प्रदा का भी बयान सामने आया है.

बता दें, रविवार को आजम खान ने जनसभा के दौरान जयाप्रदा पर निशाना साधते हुए कहा था. – ‘जिसको हम ऊंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिससे अपना प्रतिनिधित्व कराया… उनकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरवियर खाकी रंग का है.’ हालांकि, उन्होंने इस बयान में जयाप्रदा का नाम नहीं लिया था.

जया प्रदा का पलटवार

इसके तुरंत बाद आजम खान की टिप्पणी पर जया प्रदा का बयान आया है. उन्होंने कहा कि यह मेरे लिए कोई नई बात नहीं है. जया प्रदा ने कहा कि आजम ने हद पार कर दी है. मेरा चरित्र हनन किया जा रहा है. हमारी रक्षा कौन करेगा. जयाप्रदा ने कहा कि उन्हें चुनाव लड़ने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए. अगर वह जीत गए, तो लोकतंत्र का क्या होगा? समाज में महिलाओं के लिए कोई जगह नहीं होगी. हम कहां जाएंगे? क्या मुझे मर जाना चाहिए, तब आप संतुष्ट होंगे? आप सोचते हैं कि मैं डर जाऊंगी और रामपुर छोड़ दूंगी? लेकिन मैं नहीं छोड़ूंगी. आजम खान को हराकर छोड़ूंगी. आजम खान आदत से मजबूर हैं. वो सुधर नहीं सकते हैं.

जरुर पढ़ें:  BJP ने पूरे किए 39 साल, जानिए BJP का इतिहास..

आजम खान का बयान

उधर अपने बयान पर सफाई देते हुए आजम खान का कहा कि मेरी बात को गलत तरीके से पेश किया गया है. मैंने किसी का नाम नहीं लिया है. मैं जानता हूं कि मुझे क्या कहना चाहिए. अगर कोई साबित कर देता है कि मैंने कहीं, किसी का नाम लिया है, किसी का अपमान किया है, तो मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा. इसके साथ ही आजम खान ने कहा कि ‘मैं दिल्ली के एक व्यक्ति का जिक्र कर रहा था जो अस्वस्थ है. जिसने कहा था- मैं 150 राइफलें लेकर आया था और अगर मैंने उस दिन आजम खान को देखा होता तो गोली मार देता.’ उसके बारे में बात करते हुए, मैंने कहा, ‘लोगों को जानने में काफी समय लगा और बाद में पता चला कि उसने आरएसएस के शॉर्ट्स पहने थे.’

जरुर पढ़ें:  बीजेपी के स्थापना दिवस पर शत्रुघ्न ने थामा कांग्रेस का हाथ..

आजम खान के खिलाफ केस दर्ज

इसके बाद जया प्रदा को लेकर की गई अमर्यादित टिप्पणी पर आजम खान के खिलाफ रामपुर के शाहबाद थाने में केस दर्ज किया गया. क्षेत्रीय मजिस्ट्रेट ने उनके खिलाफ थाने में तहरीर दी और मुकदमा दर्ज कराया. IPC की धारा 509 और लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम की धारा 125 में केस दर्ज किया गया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

महिला आयोग ने भेजा नोटिस

इसके बाद आजम खान की टिप्पणी पर राष्ट्रीय महिला आयोग भी संज्ञान लिया है. महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा कि वह हमेशा महिलाओं के बारे में गंदी बात करते हैं, इस चुनाव में यह दूसरी टिप्पणी है, जो उन्होंने की, राष्ट्रीय महिला आयोग उन्हें नोटिस भेज रहा है. रेखा शर्मा ने कहा कि हम चुनाव आयोग को उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए भी लिख रहे हैं, क्योंकि उन्हें सबक सीखना होगा. मुझे लगता है, महिला मतदाताओं को इस तरह के लोगों के खिलाफ मतदान करना चाहिए जो इस तरह से महिलाओं के खिलाफ बयान देते हैं.

जरुर पढ़ें:  चुनाव की तारीख में बदलाव को लेकर उठे सवाल, चुनाव आयोग ने दिया जवाब

 

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here