लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण के लिए वोटिंग जारी है. गुरुवार सुबह से ही पोलिंग बूथों पर लोगों की लम्बी कतारें देखी जा रही हैं. हालांकि कई जगहों से ईवीएम की खराबी के कारण मतदान में अड़चन पैदा हुई. वहीं इसी का एक नजारा पश्चिमी उत्तर प्रदेश की कैराना सीट के लिए वोटिंग के दौरान भी देखा गया.

सुबह से ही लोग मतदान के लिए लम्बी लाइनों में लगे हुए हैं. लेकिन कुछ देर पहले कैराना के पब्लिक इंटर कॉलेज में बूथ 287 पर ईवीएम मतदान शुरू होते ही खराब हो गई. इस कारण करीब 20 मिनट तक मतदान बाधित रहा. लोकसभा चुनाव के पहले चरण में पश्चिमी उत्तर प्रदेश की कैराना सीट काफी महत्वपूर्ण है. यहां मुकाबला त्रिकोणीय है.

जरुर पढ़ें:  कांग्रेस की हार के लिए अमरिंदर ने सिद्धू को ठहराया जिम्मेदार, कहा- बाजवा को गले लगाने से हुआ नुकसान..

गठबंधन में सपा प्रत्याशी के रूप में तबस्सुम बेगम, भाजपा ने प्रदीप चैधरी तथा कांग्रेस ने हरेन्द्र मलिक को प्रत्याशी बनाया है. बता दें 2014 चुनाव में हूकुम सिंह 236828 मतों से चुनाव जीते थे और उन्हें कुल पड़े मतों में 50 प्रतिशत से अधिक मत मिले थे. सपा के नांहिद हसन को 30 प्रतिशत तथा बसपा के कनवर हसन को 14 प्रतिशत मत मिले थे. मुस्लिम मतों के विभाजन से भाजपा को भारी अन्तर से जीत मिली थी लेकिन हूकुम सिंह के निधन के बाद हुए उपचुनाव में रालोद का गठबनधन प्रत्याशी तबस्सुम बेगम चुनाव जीतीं और उन्हें गठबंधन प्रत्याशी बनाया है. मुस्लिम, दलित और जाट सर्वाधिक हैं. मुस्लिम 28 प्रतिशत, दलित 18 प्रतिशत, जाट 20 प्रतिशत, गुर्जर 12 प्रतिशत, अन्य पिछड़ी जातियां 10 प्रतिशत और 14 प्रतिशत सर्वण हैं. चुनाव में कांग्रेस ने हरेन्द्र मलिक को उतार कर त्रिकोणात्मक बना दिया है. आपको बता दें सुबह नौ बजे तक 11.06 फीसद मतदान हो चुका है.

जरुर पढ़ें:  पहले काटे गेंहू, अब आई ट्रैक्टर की बारी, क्या हेमा जीतेंगी पारी?

करीब साढ़े 16 लाख मतदाता करेंगे फैसला

कैराना लोकसभा क्षेत्र में 16 लाख 61 हजार 963 मतदाताओं में आठ लाख 95 हजार 685 पुरुष मतदाता, सात लाख 66 हजार 185 महिला मतदाता, पांच हजार 683 दिव्यांग मतदाता व 93 थर्ड जेंडर शामिल हैं. इसके साथ ही 80 साल से ऊपर के करीब 18 हजार मतदाता व पहली बार वोट करने वाले 16 हजार मतदाता रहेंगे. कैराना लोकसभा क्षेत्र में मतदान केंद्र 893 व बूथों की संख्या 1823 हैं, जबकि संवेदनशील बूथ 633 व अति संवेदनशील बूथ 71 है.

कैराना लोकसभा क्षेत्र में है पांच विधानसभा क्षेत्र

कैराना लोकसभा क्षेत्र शामली व सहारनपुर जिले की कुल पांच विधानसभा क्षेत्रों से बना है. इसमें शामली की तीन कैराना, थानाभवन व शामली, जबकि सहारनपुर की गंगोह व नकुड़ विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं.

जरुर पढ़ें:  बढ़ते पेट्रोल के दामों से राहत पाने के लिए कार कंपनियों ने भी अपनाए ये अहम कदम
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here