चुनावी घमासान के बीच नेताओं के तर्क वितर्क तो आम बात है. सभी दल नए नए हथकंडे अपनाकर अपना सिक्का जमाने में लगे हुए हैं. कहीं कोई नेता अनोखे पैंतरों के साथ जनता को लुभाने में लगा है तो कहीं कोई नेता अपने तंजों के साथ विपक्षी दलों पर हमला बोलने में. इसी कड़ी में BSP मुखिया मायावती भी अपने शब्दों के तीर से घेरती हुई नजर आईं.

दरअसल बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग करने के मामले में कांग्रेस बीजेपी से कम नहीं है. मायावती ने ट्वीट किया कि सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग के मामले में कांग्रेस भी बीजेपी से कम नहीं. उन्होंने कहा कि एमपी की गुना लोकसभा सीट पर बीएसपी उम्मीदवार को कांग्रेस ने डरा-धमकाकर जबर्दस्ती बैठा दिया है, किन्तु बीएसपी अपने सिम्बल पर ही लड़कर इसका जवाब देगी और अब कांग्रेस सरकार को समर्थन जारी रखने पर भी पुनर्विचार करेगी.

जरुर पढ़ें:  14KM पैदल चलकर स‍िद्ध‍िविनायक मंदिर पहुंची स्मृति ईरानी, क्या राहुल की हार के लिए मांगी थी मन्नत ?

मायावती ने कहा कि साथ ही यूपी में कांग्रेसी नेताओं का यह प्रचार कि बीजेपी भले ही जीत जाए, किन्तु बसपा-सपा गठबंधन को नहीं जीतना चाहिए, यह कांग्रेस पार्टी के जातिवादी, संकीर्ण व दोगले चरित्र को दर्शाता है. उन्होंने कहा कि अतः लोगों का यह मानना सही है कि बीजेपी को केवल हमारा गठबंधन ही हरा सकता है. लोग सावधान रहें.

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश के गुना-शिवपुरी से ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ खड़े बीएसपी उम्मीदवार लोकेंद्र सिंह राजपूत कांग्रेस में शामिल हो गए हैं. बीएसपी के लिए ये एक बड़ा झटका माना जा रहा है, जिससे सिंधिया को इसका फायदा होगा. लोकेंद्र सिंह राजपूत ने सिंधिया की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ली. ज्योतिरादित्य सिंधिया इस सीट से 4 बार चुनाव जीत चुके हैं. उनका मुकाबला बीजेपी के केपी यादव से हैं, केपी यादव भी पहले सिंधिया के करीबी हुआ करते

जरुर पढ़ें:  बुलंदशहर के एक गांव में मुसलमानों को सता रहा है मोदी के आने का डर
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here