लोकसभा चुनाव अपने चरम पर आ पहुंचे है. लेकिन प्रचार का सिलसलिसा अब थम चुका है पर बावजूद इसके पीएम मोदी पहुचं चुके है केदरनाथ वहीं केदारनाथ जंहा से जुड़ी है पीएम मोदी की अगाध आस्था. ये वही जगह है जंहा से पीएम मोदी ने अस्सी के दशक में करीब डेढ़ महिने तक केदारपुरी में मंदाकिनी नदी के पास लंबा समय बिताया था. ये दूसरी बार हैं जब पीएम मोदी अपने पांच साल के कार्यकाल में केदारथाम पहुंचे है. प्रधानमंत्री के केदारनाथ दौरे को लेकर केदारपुरी को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है. करीब 600 सुरक्षा जवानों की केदारनाथ में तैनाती की गई है. चुनाव में ताबड़तोड़ प्रचार के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भगवान शिव की शरण में केदारनाथ पहुंचे चुके है. यहां मंदिर परिसर में पहुंचने पर केदारनाथ के तीर्थ पुरोहितों ने उनका भव्य स्वागत किया, जिसके बाद पीएम मोदी ने शिव की पूजा अर्चना की औऱ वहां मौजूद श्रद्धालुओं का हाथ हिलाकर अभिवादन भी किया ।

लेकिन पीएम मोदी की केदरानाथ यात्रा एक फिर सुर्खियों में आ गई है जब पीएम मोदी डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के बारे में इंजीनियरो से बात करते देखे गए. उन्होंने इस मौके पर बर्फ हटाने को लेकर अफसरों को कुछ सलाह भी दी. इसका वीडियो पीएम मोदी ने खुद ट्विटर पर शेयर किया ।

जरुर पढ़ें:  'आप' से गठबंधन पर राहुल की सहमती, 4-3 फॉर्मुले पर लड़ सकते हैं चुनाव..

इस वीडियो में पीएम मोदी के हाथ में कुछ कागजात दिख रहे है, जिसको देखने के बाद वो अफसरों से पूछ रहे है कि इसका पानी का बहाव किधर जाएगा, वहां मौजूद अफर जवाब देते है कि पानी को नीचे से ढलान की तरफ विकाला जाएगा. पीएम मोदी वहां मौजूद अफसरों को कई सलाह देते दिख रहे है. यूं तो हमने पीएम मोदी के कई अंदाज देखे है जो बड़े ही अलग होते है पर इस बार पीएम मोदी केदारनाथ में बड़े अलग आउटफिट में दिखे स्लेटी रंग के पहाड़ी परिधान और पहाड़ी टोपी, कमर में केसरिया गमछा बांधे और हाथों में प्रोजेक्ट से जुड़ा नक्शा. मानो पीएम मोदी केदारनाथ का नक्शा ही बदल देंगे ।

जरुर पढ़ें:  वोटिंग से पहले पीएम ने लिया मां का आशीर्वागद, मां ने तौहफे में दिए 500 रुपये..

2019 के लोकसभा चुनाव में जिस तरीके से पीएम मोदी ने दिन रात एक करके प्रचार किया है उसके बाद अब वक्त आ गया है जब वो भगवान के शरण में अच्छे नतीजों की कामना करने पहुंच रहे है

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here