New Delhi: Prime Minister Narendra Modi address following a meeting with President Ramnath Kovind at Rastrapati Bhawan in New Delhi, Saturday, May 25, 2019. (PTI Photo/Atul Yadav)(PTI5_25_2019_000245B)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दूसरे कार्यकाल के लिए 30 मई को राष्ट्रपति भवन में शपथ लेने जा रहे है. इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी के साथ उनका मंत्रीमंडल भी पद और गोपीनयता की शपथ लेगा. शपथ ग्रहण समारोह के लिए भव्य स्तर पर तैयारियां की गई है. इस समारोह में कई देशों के प्रतिनिधी, कई क्षेत्रों के सूरमा और नामी हस्तियां शामिल होंगी. जो इस समारोह में चार चांद लगाने का काम करेंगी. शपथ ग्रहण समारोह के लिए खास तैयारियां भी शुरू हो गई हैं. तो आइये जानते हैं, अब तक के शपथ ग्रहण समारोह से क्या खास हैं ।

इकोनॉमिक्स टाइम्स के मुताबिक आपको बता दें कि राष्ट्रपति भवन इस बार सबसे ज्यादा मेहमानों की मेहमान नवाज़ी करने वाला है. इस बार के शपथ ग्रहण समारोह में 5 हजार से 6 हजार लोग मौजूद रहेंगे. जिसमें कई बड़ी हस्तियां शमिल होंगी. लेकिन इस बीच राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और मोदी मंत्रिमंडल का इस बात पर जोर है कि समारोह को सादा और सिंपल रखा जाए जिससे ये उतना ही ज्यादा प्रभावशाली हो सके. तो दूसरी तरफ इस बार शपथ ग्रहण समारोह राष्ठ्रपति भवन के फोर कास्ट में होने जा रहा है.जो राष्ट्रपति भवन के मेन गेट और मेन बिल्डिंग के बीच का शानदार रास्ता है, इस रास्ते से ऱाष्ट्रपति भवन के अंदर खास लोगों को ही जान के इजाजत होती है. ऐसा चौथी बार होगा जब किसी प्रधानमंत्री का शपथ ग्रहण समारोह दरबार हॉल में न होकर फोरकोर्ट में होगा ।

जरुर पढ़ें:  मतगणना के दौरान काउंटिंग हॉल में केवल तीन लोग रख पाएंगे मोबाइल, जनिए कौन है वो लोग..

तो वहीं समारोह में खाने पर विशेष तौर पर ध्यान दिया गया है. महमानों के लिए हल्का खाना और नाश्ते का इंतजाम किया जाएगा. नाश्ता शाकाहारी होगा. जिसमें समोसा, राजभोग से लेकर लेमन टार्ट तक शामिल होगा. वहीं, खाना शाकाहारी और मांसाहारी दोनों तरह का होगा. सभी खाने का इंतजाम राष्ट्रपति के किचन में ही किया जाएगा. महमानों के लिए खाने का समय देर में रखा गया है, जो हमारे देश के मुकाबले देर से खाना पसंद करते हैं. खाने में राष्ट्रपति भवन की खास डिश “दाल रायसीना” शामिल है, जिसको बनाने में 48 घंटे से भी अधिक का वक्त लगता है. ये दाल आज रात से ही बननी शुरू हो जाएंगी ।

जरुर पढ़ें:  'संकल्पित भारत, सशक्त भारत' वाले BJP के संकल्प पत्र की 10 बड़ी बाते, क्या है देश लिए खास

इस बार के शपथ ग्रहण समारोह के टाइम में भी गर्मी को देखते हुए तबदीली की गई है. पहले शपथ ग्रहण समारोह का समय शाम 6 बजे रखा गया था जिसमें मेहमान 4 बजे से आना शुरु हो गए थे. लेकिन इस बार टाइम को बड़ा कर 7 कर दिया गया है. जिससे की मेहमानों का अच्छे तरीके से स्वागत किया जा सके ।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here