साध्वी प्रज्ञा को लेकर प्रेस कॉनफ्रेंस कर रहे बीजेपी नेता पर हुआ जूता अटैक..

दिल्ली स्थित भारतीय जनता पार्टी के हेडक्वॉर्टर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पार्टी नेता जीवीएल नरसिम्हा राव और जितेंद्र तोमर पर एक शख्स ने जूता फेंक दिया. ये घटना उस वक्त हुई जब भोपाल सीट से साध्वी प्रज्ञा सिंह को प्रत्याशी बनाए जाने पर जीवीएल प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे. तभी हॉल में मौजूद एक शख्स शक्ति भार्गव ने नेता जी पर जूता फेंक दिया.


बताया जा रहा कि जूता फेंकने वाला शख्स शक्ति भार्गव कानपुर का रहने वाला है. वह हॉल में सबसे आगे बैठा था. जीवीएल नरसिम्हा राव प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे. तभी शख्स ने मौका पाकर जीवीएल पर जूता फेंक दिया. हालांकि, जीवीएल बाल-बाल बच गए. वहीं मौके पर मौजूद लोगों ने शख्स को पकड़ लिया. उसे पुलिस को सौंपा गया है.

जरुर पढ़ें:  लड़के ने ट्रेन में 20 साल की लड़की के सामने किया हस्तमैथुन, कहा- रेप कर दूंगा

जूता फेंके जाने की घटना के बाद भी बीजेपी नेता जीवीएल नरसिम्हा राव ने अपनी बातचीत जारी रखी. उन्होंने इस घटना के पीछे कांग्रेस का हाथ बताया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस से प्रभावित व्यक्ति द्वारा किया गया निंदनीय कृत्य है. इस व्यक्ति ने यहां पर कांग्रेस की विचारधारा बताई है.

आरोपी शख्स के पास मिले विजिटिंग कार्ड में उसका नाम शक्ति भार्गव लिखा है. आईपी एस्टेट पुलिस स्टेशन पर जूता फेंकने वाले शख्स से पुलिस पूछताछ कर रही है.आईपी एस्टेट थाने के पुलिस अधिकारी बीजेपी मुख्यालय के लिए रवाना हो गए है.

सोशल मीडिया पर मौजूद शक्ति भार्गव के पोस्ट के मुताबिक, वे व्हिसिल ब्लोअर है. अपने पोस्ट में वह कई बार मोदी सरकार को घेर चुका है. उसने एक पोस्ट में लिखा, ‘पिछले 3 वर्षों में PSU के 14 कर्मचारियों ने आत्महत्या किया.’ 2014 में NaMo ने कहा था – ना खाऊंगा ना खाने दूंगा, 2019 में NaMo- सरकार के भीतर भ्रष्टाचार के खिलाफ कोई आवाज नहीं.’

जरुर पढ़ें:  विंग कमांडर अभिनंदन की रिहाई पर पीओम मोदी का बड़ा ऐलान

 

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here