किडनैपिंग का एक ऐसा केस सामने आया है, जिसमें किडनैपर पहले खुद ही मॉडल को किडनैप करता है और फिर उसकी ऑनलाइन नीलामी कर उसे वापस छोड़ जाता हैं, किडनैपर मॉडल को कई दिन से किडनैप करने के चक्कर में था, बताया जा रहा है किडनैपर ‘ब्लैक डेथ’ ग्रुप का मेंबर है।

ब्रिटिश मॉडल ‘च्लोएं आयलिंग’

ये मामला इटली के मिलन का है जहां एक ब्रिटिश मॉडल को किडनैप कर उसकी ऑनलाइन नीलामी की गई। उसके बाद उसकी अश्लील तस्वीरें भी खींची और 2 करोड़ की मांग की, लेकिन फिर अचानक सरफिरे किडनैपर ने मॉडल को एंबेसी के पास छोड़ दिया। इस मामले में अभी ये तो पता नहीं चल पाया है, कि आखिर किडनैपर मॉडल को वापस क्यो छोड़ गया है। हांलाकि आरोपी मॉडल का कई समय से पीछा कर रहा था।

जरुर पढ़ें:  अवॉर्ड फंक्शन में कुछ इस अंदाज़ में नज़र आई आपकी चेहती टीवी स्टार्स
Chloe Ayling

ब्रिटिश मॉडल च्लोए आयलिंग एक मॉडलिंग एक एजेंसी के लिए काम किया करती थीं, एक दिन च्लोए को मॉडलिंग की फोटोशूट के लिए इटली भेजा गया था। मॉडल जैसे ही दिए गए पते पर पहुंची, तो वहां पहले से किडनैपर लुकास पावेल हेरबा मौजूद था। उसने मौके पर ही पहले मॉडल को ड्रग्स देकर बेहोश कर दिया। उसके बाद किडनैपर ने अपने किसी साथी की मदद से उसके कपड़े उतारे और अश्लील फोटो खींचना शुरु कर दिया। इसके बाद किडनैपर मॉडल को अपने साथ बोर्गिअल इलाके में ले गए। मॉडल को हथकड़ी लगाकर किडनैपर ने उसकी ऑनलाइन निलामी करना शुरु कर पैसा कमाना शुरु कर दिया।

जरुर पढ़ें:  श्रीदेवी ने खोले कई बड़े राज़, झाड़ियों के पीछे बदलती थीं कपड़े
demo pic

मॉडल के गायब होने की खबर जैसे ही एंजेसी को पता चली, उन्होंने च्लोए को ढूंढना शुरु कर दिया। तभी कुछ दिनों बाद किडनैपर का एजेंसी वालों को मैसेज आया जिसमें 2 करोड़ रुपए की फिरौती मांगी गई, इसके बाद एजेंसी ने तुरंत ही इसकी खबर पुलिस को दी। खूर मिलते ही पुलिस ने कार्रवाई शुरु कर दी, लेकिन किडनैपिंग के 6 दिन बाद ही अचानक मॉडल मिलन की ब्रिटिश एंबेसी के पास मिल गई। जिसमें पता चला की खुद किडनैपर ने उसे वा छोडने आए थे और तभी पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

Loading...