आज वर्ल्ड चॉकलेट डे है, इतने मीठे दिन को कोई कैसे मिस कर सकता है। खासकर लड़कियां जिन्हें चॉकलेट्स बेहद पंसद होती हैं। ऐसा नहीं है कि बच्चे या बड़े इसे नहीं पसंद करते, बच्चों और बड़ों को भी इसका स्वाद ललचा ही देता है। खासकर बुजुर्ग चॉकलेट को लेकर कितने क्रेजी होते हैं, इसका नमूना हम एक जस्ट जेली की टीवी एड में देख चुके हैं। लेकिन शायद ही आपको पता हो, कि ये चॉकलेट्स आपके दादा-दादी, नाना-नानी की कई परेशानियों को छू-मंतर पर कर सकती है।

चॉकलेट के लिए लालची बुजुर्ग वाली टीवी एड

अगर आप भी चाहते हैं, कि ब्लैक, टेस्टी, स्वीट वाली चॉकलेट से आपके घर के बुजुर्ग ठीक रहे, तो उन्हें आज से ही चॉकलेट खिलाना शुरु कर दीजिए। दरअसल चॉकलेट बुर्जुगों के लिए एक ऐसी दवा है, जो उनकी याददाश्त और भूलने की बिमारी को ठीक कर सकती है। बढ़ती उम्र के साथ बड़े-बूढ़ों की याददाश्त काफी कमजोर हो जाती है, कई बातें भूलने लग जाते हैं, लेकिन अब इस बिमारी को आप घर बैठे ठीक कर पाएंगे। 

जरुर पढ़ें:  फ़ास्ट फ़ूड खाना आपके दिमाग को पंहुचा सकता है नुक्सान, इन बातों का रखें ध्यान

एक रिसर्च के में ये बात साबित हुई है, कि चॉकलेट में कोका बीन ऐसा तत्व है जो भूलने की बिमारी को ठीक कर सकता है। चॉकलेट में फ्लावनोल्स भी ऐसा इंग्रजियंट है, जो आपकी नर्व्स को ठीक रखाता है। रिसर्च  के मुताबिक जो बुजुर्ग रोजाना कोका, फ्लावनोल्स लेते हैं। उनका फोकस वाले कामों में सुधार देखा गया हैं।

चॉकलेट

ये ज़रुरी नहीं है, कि आप हमेशा चॉकलेट ही खाएं, अपनी फोकस पॉवर बढ़ाने के लिए आप चॉकलेट ड्रिंक भी ले सकते हैं, जो टेस्टी भी होती है। चॉकलेट के अलग-अलग फ्लेवर्स भी आपके लिए फायदेमंद हैं। तो अगर आप भी स्वस्थ रहना चाहते है तो चॉकलेट डे से ही अपने घर के बुजुर्गों के साथ ही खुद भी चॉकलेट खाना शुरु कर दीजिए।