आज कल की भाग-दौड़ भरी लाइफ में आराम तो नहीं मिल पाता, मगर हर इंसान अपने आप को रिलेक्स करने के लिए नए-नए तरीके जरुर अपनाता है। कुछ लोग रिलेक्स होने के लिए मेडिटेशन करते हैं, कुछ योगा और म्यूजिक सुनकर तनाव दूर कर लेते हैं, तो कुछ टहलने जैसे तरीकों को अपनाते हैं। लेकिन कुछ ऐसे भी हैं, जो रिलेक्सेशन के लिए स्पा लेना बेहद पसंद होता है। लेकिन क्या आपको पता है, कि स्पा भी कई तरह के होते हैं और इनके फायदे भी ऐसे भी अलग-अलग।

Demo Pic- Yoga Center 

बॉडी मसाज, स्टीम बाथ और मेंटल हीलिंग स्पा के ये जनरल प्रकार हैं। इसके अलावा भी कई तरह के स्पा होते हैं, जैसे बोलों को निखारने के लिए हेयर स्पा, चेहरे के लिए फेस स्पा और शरीर के अलग-अलग अंगों के हिसाब से जैसे शोल्डर स्पा, फुट स्पा, हैंड स्पा, बैक स्पा और पूरे शरीर के लिए बॉडी स्पा। लेकिन कौन सा स्पा बेस्ट होता है और करें तो कौन सा स्पा करें, ये उलझन हमेशा बनी रहती है, तो हम आपकी इस उलझन को दूर करने में थोड़ी मदद कर देते हैं।

जरुर पढ़ें:  बैक पेन से हैं परेशान, ये स्मार्ट अंडरवियर देगी आराम
Hair spa

स्पा क्या है

आपको बता दें कि स्पा एक लग्जरी ट्रीटमेंट माना जाता है, जो सदियों से चला आ रहा है। पहले इसे शरीर के आराम और तनाव को दूर करन के लिए यूरोप के देशों में शुरू किया गया। इसके बाद ये थेरेपी पूरी दुनिया में फैल गई। ये थेरेपी त्वचा को पोषण देने के साथ-साथ तरो-ताजा भी करती है और स्पा से शरीर में रक्त संचार बढ़ता है, इसलिए स्पा की अलग-अलग तरह की थेरेपी की जाती है।

Spa

मड थेरेपी

मड थेरेपी को त्वचा की समस्या, नसों में ब्लॉकेज, शरीर में रक्त का बहाव रुकना, बदन दर्द, थकावट इन सबके लिए दिया जाता है। इस स्पा में मिट्टी के अंदर नीम की पिसी पत्तियां और भी तरह की जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया जाता है। इस मिश्रण को शरीर पर लगाया जाता है, इनमें सबसे खास बात ये है, कि इस स्पा में जिस मिट्टी का प्रयोग किया जाता है, उसे समुद्र के अंदर से लाया जाता है और इजराइल और मुल्तानी या गाची मिट्टी का प्रयोग किया जाता है, जो काफी असरदार साबित होती है और काफी राहत भी देती है।

जरुर पढ़ें:  अगर आप गूगल यूजर्स है, तो जानिए ये खास न्यू फिचर्स
Demo pic- Mud spa

एक्यूपंक्चर स्पा थेरेपी

अगर आपके शरीर में जकड़न और हाथ-पैरों में झनझनाहट है, नसे चढ़ी हैं, तो आप इस थेरेपी को करवा सकते हैं, इस थेरेपी में इंसान के मुताबिक शरीर में छोटी-छोटी सुइयां एक्यूपाइंट्स स्किन में लगाई जाती हैं, जिससे शरीर में गर्मी और ऊर्जा का संचार होता है।

Demo pic Acupuncture spa

सोना स्टीम बाथ

इस स्पा के लिए शख्स को स्टीम चैंबर के अंदर बिठा दिया जाता है, और उस कमरे को कोयले और पत्थरों से गर्म किया जाता है, जहां उन्हें 25-30 मिनट तक स्टीम दी जाती है।

Demo pic- Sona bath

वॉटर स्टीम बाथ

त्वचा की समस्या से जूझ रहे हैं, तो आप वॉटर स्टीम बाथ का मजा भी ले सकते हैं, इसमें एक बड़े टब में कई तरह की जड़ी-बूटियां डालकर पानी उबाला जाता है और उस टब को उस मंजी के नीचे रखा जाता है, जिस पर व्यक्ति लेटा होता है। 25-30 मिनट के स्टीम से उस व्यक्ति की त्वचा की डीप क्लीनजिंग हो जाती है।

जरुर पढ़ें:  नमक का ये फायदा जानते हैं आप? चुटकी भर नमक से आप बन सकते हैं खूबसूरत
Demo pic- Water steam bath

स्पा मसाज

स्पा मसाज में शरीर की मसाज की जाती है। ये मालिश 15 मिनट से लेकर करीब एक घंटे तक चलती है। मालिश से व्यक्ति की इंद्रियों को सक्रिय किया जाता है, जिसकी वजह से बीमारियों का इलाज भी होता है। गुलाब, चमेली, लैवेंडर, नीम या फिर तिल के तेल में जड़ी-बूटियां को मिलाकर इससे मालिश की जाती है।

Demo pic- Spa massage 

पंचकर्म थेरेपी

इस स्पा थैरेपी में शरीर की पांचों इंद्रियों पर काम किया जाता है, इसमें स्नेहन में घी या तेल पिलाकर और मालिश कर दोषों को दूर किया जाता है, और शरीर से पसीना निकाल कर बीमारियां को भी दूर किया जाता है।

Panchkarma therapy