लड़के और लड़कियों में हर चीज़ का अंतर होता है चाहे बात बॉडी की हो, रहन-सहन की, खाने-पीने की, यहां तक की कपड़ो में भी अतंर होते हैं। और अगर आपने लड़के और लड़कियों के कपड़ों पर गौर किया होगा, तो ज़रुर ही आपने देखा होगा कि लड़कियों की शर्ट लड़कों की शर्ट से काफी अलग होती है। इसमें जो खास और हैरान कर देने वाला अंतर होता है वो है शर्ट की जेब यानि pocket।

why-girls-dont-have-pockets-in-their-shirt

जी, हां आपने देखा होगा लड़कों की शर्ट में पॉकेट होता है और लड़कियों की शर्ट में नहीं। अगर नहीं देखा तो अब ज़रुर गौर करना। लेकिन ऐसा क्यों है, कि लड़कों की शर्ट में पॉकेट होता है और लड़कियों की शर्ट में नहीं? आप सोच रहे होॆंगे लड़कियों को पॉकेट की ज़रुरत नहीं पडती ? लेकिन ऐसा नही है।

जरुर पढ़ें:  पैरों की एंक्लेट के ये फायदे जानकर रह जाएंगे दंग, हेल्थ से लेकर वास्तू तक में है मददगार

आखिर क्यों नहीं होती है लड़कियों की Shirt में Pocket?

दरअसल, इसके पीछे की वजह हमारी समाज की पुरानी सोच है। कहा जाता है कि, यह परंपरा और मानसिकता से जुड़ा मसला है। पुराने समय में लोगों का मानना था, कि अगर लड़कियों के कपड़ों में जेब होगी तो वह उस जेब में ज़रुर कुछ ना कुछ रखेंगी, जिससे उनके शरीर की बनावट बिगड़ जाएगी और शरीर में उभार दिखाई देगा, जिस वजह से उनके शरीर की सुंदरता कम हो जाएगी। इसी वजह से पुराने समय से ही लड़कियों की शर्ट में पॉकेट नहीं दी जाती थी।

जरुर पढ़ें: आखिर क्यों बैन होती है शमशान में लड़कियों की Entry?

हैरान करने वाली बात ये है कि आज जिस तरह महिलाओं को सिर्फ सुंदर दिखने की वस्तु मानी जाती है, उस समय में भी महिलाओं को कुछ इसी तरह से देखा जाता था. हालांकि, अब इसमें बदलाव आने लगा है। लड़कियों के कपडों में भी अब पॉकेट देखी जाती हैं । पहले लड़कियां इसका विरोध नहीं कर पाती थीं। आज वह अपने हर अधिकार के लिए अवाज़ उठा सकती है। और यह बदलाव समाज के लिए एक नई दिशाएं खोल रहा है। जहां  रुढ़ीवादी और पुरानी सोच  बदल रहे हैं।

जरुर पढ़ें:  बॉडी स्पा लेने की सोच रहे हैं, तो उससे पहले ये ज़रूर पढ़ें
Loading...