एक बार फिर पैसो के खेल में नया बदलाव देखने को मिलेगा, जहां पहले नोटों में नए बदलाव देखे गए थे, वही अब सिक्कों मे भी देखने को मिलेगा। जल्द ही हम सब को 100 रुपए का सिक्का भी देखने को मिलेगा। 100 रुपए का नया सिक्का जारी करने के पीछे की जो वजह भी बेहद ही खास है।

100 rupee New Coin

फाइनेंस मिनिस्ट्री में अपने नोटिफिकेशन में कहा है, कि सरकार ने 100 रुपए का नया सिक्का लाने का फैसला किया है, इसके अलावा 10 और 5 रुपए के सिक्के भी नए फीचर्स के साथ जारी किए जाएंगे और इसे जारी करने के पीछे खास बात ये है कि MGR और डॉ. सुब्बुलक्ष्मी के जन्म तिथि की याद में इन सिक्कों को जारी किया जा रहा है, एमजीआर और सुब्बुलक्ष्मी के जन्म के 100 साल पूरे होने पर सिक्के जारी किए जाएंगे।

जरुर पढ़ें:  शौक बड़ी चीज़ है... इजराइल दौरे पर अपना चायवाला भी साथ ले जाएंगे पीएम मोदी
M.G Ramachandran

एमजी रामचंद्रन AIADMK के फाउंडर रह चुके हैं। इतना ही नहीं, वो साउथ इंडियन सुपर स्टार भी रहे हैं। इनका जन्म 17 जनवरी 1917 को श्रीलंका के कैंड़ी में हुआ था, वही एम सुब्बुलक्ष्मी पहली क्लासिकल सिंगर थीं, जिनका जन्म 16 सितंबर 2016 को मुदरई में हुआ था और अब सरकार इन दोनों की याद में इन सिक्कों को जारी करने वाली है और इनकी सच्ची श्रद्धांजलि के लिए सिक्कों पर इनकी तस्वीरें भी छापी जाएंगी।

कैसा होगा नया सिक्का

बता दें, कि नए सिक्के के आगे की तरफ अशोक स्तंभ होगा, जिस पर सत्यमेव जयते लिखा होगा, वही इसके बाई तरफ देवनागिरी में भारत लिखा रहेगा और दाहिनी तरफ अग्रेजी में इंडिया लिखा होगा। इसी के साथ इसमें रुपए का सिम्बल और रुपए की वैल्यू 100 रुपए लिखा होगा। बता दें, कि सिक्के के दूसरी तरफ डॉ. सुब्बुलक्ष्मी का पोट्रेट होगा, जिनके बारे में देवनागिरि में लिखा होगा। इसके अलावा इंग्लिश में भी डॉ. सुब्बुलक्ष्मी की जन्म तिथि लिखी रहेगी और राइट तरफ 1916 से 2016 का न्यूमेरिक भी लिखा हुआ नज़र आएगा, जो सुब्बुलक्ष्मी के जन्म और मृत्यु को डिफाइन करेगा।

जरुर पढ़ें:  चलती बस में 6 लड़कों ने लड़की के उतारे कपड़े, किसी ने नहीं की मदद
M S Subbulakshmi

बताते की सिक्के का दूसरा डिजाइन भी तैयार किया जाएगा, जिसमें एमजीआर का पोट्रेट बना दिखाई देगा, इसमे भी देवनागिरी और इंग्लिश में डॉ.एमजी रामचंद्रन की जन्म शताब्दी लिखी रहेगी। 100 रुपए के सिक्के का डायामीटर 44 मिलीमीटर का होगा, जो 50% चांदी,40% कॉपर, 5% निकल और 5% जिंक मिलकर बना होगा।

पन्नीरसेल्वम और शशिकला ने लिखे पीएम को लेटर

बता दें, कि AIADMK की पूर्व जनरल सेक्रेटरी शशिकला और पार्टी के कोऑर्डिनेटर ओ पन्नीरसेल्वम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक लेटर लिखा ता, जिसमे शशिकला ने लिखा था, कि AIADMK के फाउंडर के जन्म के 100 साल पूरे होने जो रहे हैं, जिनकी याद में पोस्टल स्टैंप और सिक्के जारी किए जाने चाहिए ताकि भारत रत्न पाने वाले एमजीआर को सच्ची श्रंद्धाजलि दी जा सके।

जरुर पढ़ें:  पति-पत्नी के बीच जो हुआ, वो तोते ने देखा और सबको बता दिया
Prime Minster Narender Modi
पन्नीरसेल्वम ने भी पीएम को लेटर लिखा था, कि एमजीआर एक प्रेरणादायक व्यक्तित्व हैं,उन्हें उदारता, सादेपन, लीडरशिप और राज्य के मुल्यों के लिए लड़ने वालो के तौर पर याद किया जाता है, ऐसे में क्रांतिकारी लीडर की जन्म शताब्दी पर सिक्के और टिकट जारी करना चाहिए और उन्हे सच्ची श्रंद्धांजलि देनी चाहिए। जिसे मानते हुए मोदी सरकार ने ये फैसला किया।
Loading...