देश में लोकसभा चुनाव का दंगल जोरों पर है. तमाम नेता और राजनीतिक दल एक दूसरे को कड़ी टक्कर देते हुए दिख रहे हैं. दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल में हालात लगातार बिगड़ते हुए नजर आ रहे हैं. लोकसभा चुनाव के 5 चरणो के लिए वोटिंग हो चुकि है. और आखिरी चरण में होने वाले 9 सीटों पर मतदान को बीजेपी और टीएमसी ने साख की लड़ाई बना ली है. कोलकाता में अमित शाह के रोड शो में हुई हिंसा के बाद देर शाम तक कोलकाता में ही कई बीजेपी नेताओं को हिरासत में ले लिया गया. साथ ही भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई गई है. वहीं, बीजेपी नेता अमित मालवीय ने आरोप लगाया है कि तेजिंदर पाल सिंह बग्गा समेत कई नेता इस समय हिरासत में हैं.

जरुर पढ़ें:  कनाडा में दूल्हा-दुल्हन ने लिए फेरे, भारत से पंडित जी ने पढ़े मंत्र

BJP IT सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने बुधवार सुबह ट्वीट कर आरोप लगाया है. उन्होंने लिखा कि ममता बनर्जी ने देर रात बीजेपी नेताओं की धरपकड़ के आदेश दिया, कोलकाता में कई नेताओं को रात को ही उठा लिया गया. इनमें तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के अलावा कई ऐसे नेता हैं जो अभी टीएमसी की गैरकानूनी हिरासत में हैं.


आपको बता दें कि मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कोलकाता में रोड शो किया था. इस रोड शो में भारी भीड़ तो जुटी लेकिन अंत होते-होते बवाल हो गया. रोड शो में आगजनी की गई, हिंसा हुई और टीएमसी-बीजेपी समर्थकों में हाथापाई भी हुई.

जरुर पढ़ें:  पत्रकार प्रशांत की गिरफ्तारी पर राहुल का तंज, कहा 'मेरे खिलाफ लिखने वालों पर कार्रवाई हो तो न्यूज़ चैनल खाली हो जाएंगे'

बीजेपी इस मुद्दे पर हमलावर है और दिल्ली में बड़ा प्रदर्शन कर सकती है, तो वहीं पार्टी अध्यक्ष अमित शाह भी प्रेस कॉन्फ्रेंस टीएमसी पर हमला बोल सकते हैं. उधर ममता बनर्जी भी इस लड़ाई में हार मानने के मूड में नहीं हैं, ममता ने आज कोलकाता में पदयात्रा निकालने का ऐलान कर दिया है.

ममता बनर्जी ने बीजेपी को खुली चेतावनी देते हुए कह भी दिया है कि अगर ऐसा ही जारी रहा तो वह एक मिनट  में बीजेपी दफ्तरों पर कब्जा भी कर सकती हैं. टीएमसी का आरोप है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्तियों के साथ तोड़फोड़ कर दी है.

जरुर पढ़ें:  कांकेर संसदीय क्षेत्र में पोलिंग अफसर की मौत, वोटिंग के दौरान आया हार्ट अटैक..

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण में कुल 9 सीटों पर मतदान होना है, इसमें कोलकाता शहर की सीटें भी शामिल हैं. बंगाल में कुल 42 सीटें हैं और बीते 6 चरणों में हर बार यहां हिंसा हुई है.

 

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here