आजकल सियासी जगत में एक ही नाम की चर्चा हो रही है, कोई उन्हें चाणक्य कह रहा है, कोई गैंबलर, तो कोई बाज़ीगर। सियासत के खेल को पलटने में माहिर मोटा भाई का खौफ़ इतना है, कि दूसरी पार्टियों के लोग उनसे अपने विधायकों को छिपाकर रख रहे हैं। उनकी आँखों में ऐसा आकर्षण हैं, कि जिसपर निगाह डालते हैं, उनके पाले में आ जाता है। जीहां सही समझे आप, हम बात गुजरात से आकर बीजेपी के किंग बने अमित शाह की ही कर रहे हैं।

फाइल फोटो- नरेंद्र मोदी के साथ अमित शाह

मोदी और अमित शाह की जोड़ी ने इऩ दिनों देश की सियासत में ऐसा कहर बरपाया है, कि बचे सियासी दलों के लोग उनका तोड़ ढूंढने में लगे रहते हैं, तब तक ये उनके साथ खेल कर देते हैं। हारे हुए राज्यों को जीतने का हुनर अगर किसी को आता है, तो वे अमित शाह ही है। अब विश्व की सबसे बड़ी सियासी पार्टी के सबसे ताकतवर नेता आपको राज्यसभा में भी नज़र आएंगे। इसलिए अमित शाह ने गुजरात से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। इस दौरान उन्होंने अपनी संपति का ब्योरा भी सार्वजनिक किया।

जरुर पढ़ें:  केले का छिलका डस्टबीन में डालकर नन्ही लक्ष्मी बन गई ब्रांड एंबेसडर

सियासत के साथ सोने और उसकी के साथ जागने वाले, फुल टाइम सियासदां अमित शाह की संपति में इन दिनों उतना ही इजाफा हुआ है, जितना की उनके कद में। जीहां इऩ पांच सालों में अमित शाह की संपत्ति 300 गुना बढ़ी है। पांच साल पहले 2012 में अमित शाह के पास 1.90 करोड़ रुपए की चल संपत्ति थी जो अब बढ़कर 19 करोड़ रुपए की हो गई है। ये जानकारी खुद अमित शाह ने अपने ऐफिडेविट में दी है।

नमांकन दाखिल करते अमित शाह

अमित शाह ने अपनी संपत्ति का जो ब्योरा दिया है, उसके मुताबिक उनके पास 10.38 करोड़ रुपए की चल संपत्ति है, जो उन्हें पैतृक तौर पर मिली है। बीजेपी सूत्र भी ये बताते हैं, कि 2013 में उनकी माँ के निधन के बाद अमित भाई को ये प्रॉपर्टी पैतृक संपत्ति के तौर पर मिली थी। शाह के साथ-साथ उनकी पत्नी की संपत्ति उसी तेज़ी से बढ़ीं है, जितनी अमित शाह की। 2012 में उनके पत्नी के नाम कुल संपत्ति 8.54 करोड़ रुपए थी, वो अब बढ़कर 34.31 करोड़ रुपए हो गई है।

Loading...