बजरंग दल का बड़ा एलान, ताजमहल में नमाज नहीं बल्कि अब होगी पूजा-अर्चना.

ताजमहल को लेकर समय-समय पर विवाद उठता रहता है. जहां एक तरफ तमाम हिंदू संगठन इसे शिव मंदिर बताते हुए तेजो महालय का दर्जा दे रहे हैं. तो वहीं हाल ही में सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई में केन्द्र सरकार की ओर से साफ कहा ये ताजमहल ही जिसे शाहजहां ने बनवाया था. लेकिन अब एक और इससे जुड़ा विवाद सामने आ गया है.

दरअसल मामला ताजमहल में नमाज पढ़ने से जुड़ा हुआ है. इस विवाद में बजरंग दल कूद पड़ा है. ताजमहल में जुमा के अलावा अन्य दिनों में भी नमाज अदा किए जाने पर राष्ट्रीय बजरंग दल ने विरोध जाहिर किया है. साथ ही एलान किया है कि अब ताजमहल में पूजा-अर्चना की जाएगी. बजरंग दल ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर ताज में मंगलवार को नमाज पढ़ने वाले लोगों पर कार्रवाई नहीं की गई तो आंदोलन होगा.

जरुर पढ़ें:  जगन्नाथ मंदिर से जुड़े कुछ रोचक तथ्य, पढ़िए पूरी खबर

बता दें कि ASI के बैन को ठेंगा दिखाते हुए ताजमहल इंतजामिया कमेटी यानि कि TMIC के सदस्यों ने मंगलवार को ताजमहल परिसर में नमाज पढ़ी थी. हालांकि, ‘वजू टैंक’ जहां नमाज पढ़ने से पहले नमाजी अपना शरीर साफ करते हैं वहां रोज की तरह ताला ही लगा रहा और नमाजियों ने नमाज पढ़ने से पहले पीने के पानी से खुद को साफ किया. इस दौरान पुरातत्व विभाग के अधिकारीयों ने रोकने का प्रयास किया, लेकिन वे नहीं माने.

इस बात की भनक जब हिंदूवादी संगठन बजरंग दल को पड़ी तो उसने अपने तेवर कड़े कर लिए. इस सिलसिले पर राष्ट्रीय बजरंग दल के विभाग अध्यक्ष गोविंद पाराशर का कहना है कि उन्होंने पिछले दिनों ताजमहल में आरती करने की घोषणा की थी. इस पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था. अब ताज के अंदर नमाज पढ़ी गई है तो कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही है. आरती के एलान पर प्रशासन ने कहा था कि हमने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अवहेलना की. अब सुप्रीम कोर्ट का आदेश प्रशासन को क्यों याद नहीं आ रहा है?  इसलिए अब हम भी ताजमहल में पूजा करेंगे.

जरुर पढ़ें:  कांग्रेस अध्यक्ष पद पर सिंधिया को बैठाने की उठी मांग, भोपाल में लगे पोस्टर

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 19 जुलाई 2018 को आदेश दिया था कि सिर्फ शुक्रवार को ताजमहल मस्जिद में नमाज अदा हो सकती है. साथ ही स्थानीय लोग ही यहां नमाज अदा करेंगे. बावजूद इसके मंगलवार को कुछ लोग ताजमहल पहुंच गए, जिनमें से आधा दर्जन लोगों ने नमाज अदा की.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here