दुनिया भले ही बदल रही हो, लेकिन दुनिया के मर्दों की नज़र में औरत आज भी बेचारी, बेसहारा और लाचार ही है। उन्हें वो केवल एक साधन समझते हैं, वस्तू समझते हैं। इसलिए उसके चोरी होने का, उससे छेड़छाड़ का उसको डर सताता रहता है। वैसे तो दुनिया में औरतों को लेकर कई तरह के कड़े नियम-कानून बनाए गए हैं। कभी उनके पहनवे पर बंदिशें लगाई जाती है, तो कभी उनके खेलने-कूदने पर पाबंदी। अब लड़कियों को लेकर एक नया नियम या कहे, कि फरमान जारी किया गया है। जिसके तहत महिलाएं या लड़कियां अकेले कहीं ट्रैवल नहीं कर सकेंगी। अगर उन्हें कहीं घूमने जाना है, तो उनके साथ किसी पुरुष का होना ज़रूरी है।

जरुर पढ़ें:  फिल्म का हीरो नही रियल लाइफ में IPS हैं ये शख्स, सोशल मीडिया पर मचा रखी है धूम
Demo Pic

इस नियम के तहत अगर किसी महिला को अकेले ट्रैवल करना है, तो उसका 60 साल के ऊपर होना ज़रूरी है। क्योंकि 60 साल के कम उम्र की जवान महिलाओं को अकेले ट्रेवल करने की इजाजत नहीं है। खासतौर पर अगर लड़की या महिला अगर विदेशी यानी बाहर मुल्क में यात्रा करना चाहे, तो उसे इस नियम को सख्ती से फॉलो करना ही होगा। और इस नियम के पीछे तर्क दिया जा रहा है, कि  ये नियम औरतों की सुरक्षा को लेकर बनाया गया है।

Demo Pic

ये बेतुका और बेवजह का नियम पूर्वी लीबिया में बनाया गया है। इस नियम को लीबिया त्रिपोली के प्रमुख मिलिट्री अधिकारी अब्दुल-रजेक-अल-नधौरी ने लागू किया है, जो कि देश की सुरक्षा को लेकर बनाया गया है। अब्दुल रजेक ने टीवी पर दिए गए इंटरव्यू के दौरान इस नियम को बनाने की वजह बताई, जिसमें उन्होंने कहा कि खुफिया एजेंसिया विदेश यात्रा करने वाली महिलाओं को इस्तेमाल करती है, ऐसे मे राष्ट्र की सुरक्षा मुसीबत में आ जाती है, इसलिए..

‘देश की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए, महिलाओं के साथ पुरुष साथी का होना ज़रुरी कर कर दिया गया है ‘

Demo Pic

आपको बता दें, इस नए नियम के तहत वायु, जल और थल यात्राएं भी शामिल होगी। जिन यात्राओं में कोई भी महिला का अकेले यात्रा करना जुर्म माना जाएगा।

Loading...