हाल ही में हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को करारी हार मिली हैं. तो वहीं कांग्रेस ने तीन राज्यों में सत्ता में वापसी की है. जहां एक तरफ मध्य प्रदेश के सीएम रहे शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में हार के लिए खुद को जिम्मेदार ठहराया तो वहीं सत्तारूढ़ बीजेपी पार्टी के एक नेता ने इन राज्यों में हार का कारण खुद बीजेपी के कामों को जिम्मेदार ठहराया.

दरअसल उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने एक बार फिर मोर्चा खोल दिया है. राजभर ने कहा कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ व राजस्थान में भाजपा को एससी/एसटी कानून व लम्बे समय तक सरकार में रहने का खामियाजा भुगतना पड़ा है. आपको बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी का 29 दिसंबर को गाजीपुर में महाराज सुहेलदेव की स्मृति में डाक टिकट जारी करने का कार्यक्रम प्रस्तावित है.

जरुर पढ़ें:  जापानी पीएम को पीएम मोदी ने दिया खास तोहफा, जान लीजिए क्या है ये?

राजभर ने 29 दिसंबर को गाजीपुर में आयोजित पीएम मोदी के कार्यक्रम के बहिष्कार का ऐलान किया है. योगी आदित्यनाथ सरकार में दिव्यांग जन सशक्तिकरण मंत्री राजभर ने कहा कि वह गाजीपुर से विधायक हैं और राज्य सरकार के अंग हैं. गाजीपुर में इसके पहले भी प्रधानमंत्री मोदी का कार्यक्रम हुआ तथा पूर्वांचल में दौरा हुआ ,लेकिन इन कार्यक्रमों में उनको कभी भी आमंत्रित नहीं किया गया.

लोकसभा चुनाव को लेकर पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि भाजपा से सीट को लेकर समझौता नहीं हुआ तो उनका दल उत्तर प्रदेश में 80 व बिहार की 16 सीट पर अकेले ही चुनाव मैदान में उतरेग. वह अकेले चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं.

जरुर पढ़ें:  वैलेंटाइन विक के मैके पर ओप्पो दें रहा अपने फोन पर भारी छूट,जानिए कहा मिल रही ये छूट

आपको बता दें कि ओम प्रकाश राजभर लगातार बीजेपी पर निशाना साधते रहे हैं. पिछले दिनों उन्होंने बुलंदशहर में हुई हिंसा के मामले में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और बजरंग दल को जिम्मेदार ठहराया था. कैबिनेट मंत्री राजभर ने कहा कि ये लोग वोट बैंक के लिए भावना भड़काने का काम कर रहे हैं.

इन लोगों के वीडियो सबके सामने है. उन्होंने कहा, “घटना में भाजपा के नेता, बजरंग दल और विहिप के लोग पकड़े गए हैं. जिन तीन लोगों की गिरफ्तारी हुई है, उसमें से एक भाजपा नेता भी है. मैं मुख्यमंत्री से मिलकर कड़ी कार्रवाई की मांग करूंगा.

Loading...