लड़कियां कपडों को लेकर कितनी पजेसिव होती हैं, इस बात को हर कोई जानता है। उनके लिए कपड़ों में कमी यानी उनकी लाइफ में सबसे बड़ी कमी होती है। लड़कियों को एक वक्त खाना कम मिले चल जाएगा, लेकिन अच्छे और सुंदर कपड़े पहनने को ज़रुर मिलने चाहिए। और बात अगर शादी की हो, तो फिर वहां कपड़ों से समझौता कैसे हो सकता है। यहां भी लहंगा सबसे सुंदर और यूनिक होना चाहिए, जिसके लिए लड़की दिल्ली के चांदनी चौक से लेकर जयपुर की गलियां छान मारती हैं । इसके बावजूद अगर लंहगे में कोई कमी रह जाए, तो फिर एक लड़की दुकानदार को जेल भी पहुंचा सकती हैं। जी हां, यकीन करना मुश्किल है, लेकिन एक लड़की ने दुकानदार को अदालत से सिर्फ इसलिए सजा करवा दी क्योंकि उसने लड़की को शादी में 2 इंच छोटा लंहगा दे दिया था।

जरुर पढ़ें:  पीवी सिंधु से नहीं बनी बात, अब बिग-बी समझाएंगे GST का गुणा-भाग
Demo Pic – Bride Lenhenga

मामला 13 जुलाई 2008 का है, जब एक लड़की ने अपनी शादी के लिए खूबसूरत लहंगा पंसद किया था, लड़की को लहंगा तो पंसद आ गया, लेकिन जब ट्रायल रुम में जाकर लहंगा ट्राय किया, तो लंहगा उसकी हाइट से 2 इंच छोटा पड़ गया। जिसके बाद शोरुम के सेल्स पर्सन ने लड़की को ये कह दिया, कि वो लहंगे को ठीक करके पहुंचा देगा। लडकी ने दुकानदार पर विश्वास कर उसकी बात मान ली। लेकिन जब शादी वाले दिन लड़की ने लंहगा पहना, तो उसमें वो कमी ठीक नहीं हुई थी, लहंगा पहले की तरह 2 इंच छोटा ही था।

Demo Pic- short Lehenga

 

जरुर पढ़ें:  एकिडो में ब्लैक बेल्ट रह चुके हैं राहुल गांधी, सोशल मीडिया पर फोटो हो रही है वायरल

अपनी शादी पर तो लड़की ने जैसे-तैसे अपना मन मसोजकर 2 इंच छोटा लंहगा पहन लिया, लेकिन अपने खास दिन पर इस तरह की ड्रेस पहनने को लेकर उसके मन में दुकानदार के लिए गुस्सा भर गया और उसने ठान लिया, कि दुकानदार की शिकायत करके ही रहेगी। फिर क्या, अपने साथ हुए अपमान का बदला उसने कोर्ट में जाकर लिया, उसने दुकानदार के खिलाफ दिल्ली राज्य उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग में मामला दर्ज कराया। जहां लड़की का केस 8 साल तक चला।

Demo Pic – Court

महिला ने अपने लंहगे के लिए कोर्ट में 8 साल तक चक्कर काटे, तब जाकर लड़की को इंसाफ मिला। जी हां, दिल्ली की उपभोक्ता अदालत ने उसकी शादी में ऊंचा लंहगा सिलकर देने वाले एक बड़े फैशन डिजाइन स्टूडियों को लंहगे की कीमत के साथ 50 हजार का जुर्माना देने का आदेश दिया है और स्टूडियो को इस तरह धोखा खाने वाले अन्य ग्राहकों के लिए पांच लाख रुपए राज्य के कन्ज्यूमर वेलफेयर फंड में जमा करवाने की सजाई सुनाई गई है।