खून की सजा फांसी, चोरी की सजा जेल, लेकिन ये कौन सा नया नियम है, जहां चोरी करने पर उसके साथ मार-पीट की जाए और फिर उसे नंगा कर उसकी अश्लील तस्वीरें खींचकर वायरल की जाए। इस तरह का नियम तो ना ही कानून ने बनाया है और ना ही किसी कॉलेज ने तो, फिर क्यों एक बेचारी लड़की को चोरी के आरोप में नग्न कर उसकी बदनामी की गई, जो आज अपने पिता के साथ आत्महत्या करने को मजबूर हैं।

demo pic

झारखंड से एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जिसने इंसानियत को शर्मसार कर दिया है और कॉलेज प्रशासन पर भी गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं। पहले तो कॉलेज में एक छात्रा के इज्जत उतारी गई फिर उसे बदनाम किया गया और अब न तो उसकी कोई सुनवाई हो रही है, उल्टा  उसके परिवार को भी तंगकर आत्महत्या के लिए मजूबर किया जा रहा है। मामला दुमका जिले का है, यहां छात्रा पर चोरी के आरोप में कॉलेज के कुछ छात्रों ने उसे बंधक बनाया, उसके साथ  मारपीट की और फिर उसको न्यूड कर उसकी फोटो खींची गई और उन्हे सोशल मीडिया पर वायरल भी किया गया।

जरुर पढ़ें:  8वीं फेल लड़के ने किया कमाल, अंबानी भी लेते हैं इनकी सेवाएं
demo pic

आपको बता दें, कि दुमका जिले में एसपी महिला कॉलेज के हॉस्टल में कुछ छात्राओं ने मिलकर डिग्री पार्ट वन में पढ़ रही स्टूडेंट पर मोबाईल चोरी करने का आरोप लगाया था। चोरी के आरोप में कॉलेज के कुछ स्टूडेंट मिलकर पार्ट वन की स्टूडेंट को बंदी बनाया और फिर रातभर उसकी पिटाई की, लेकिन लड़की की सजा वही खत्म नहीं हुई। उसके बाद लड़की को नंगा किया और उसकी फोटो खींचनी शुरु कर दी।  लेकिन स्टूडेंट की बेहरहमी यहां भी नहीं रुकी उन्होंने लडकी की खींची गई न्यूड फोटो को सोशल मीडिया पर वायरल भी कर दिया। सबसे हैरान कर देनी वाली बात ये है कि स्टूडेंट के ऐसे घिनौने काम को देख कॉलेज प्रशासन इस पर चुप रहा, यहां तक की छात्रावास की वार्डन भी इस मामले में कुछ बोलने को तैयार नहीं है।

जरुर पढ़ें:  इन जगहों पर क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने से पहले 100 बार सोचे, वरना पछताना पड़ेगा
SP college of women Dumka

इस पूरे मामले में पीडिता का कहना है, कि उसने एक स्टूडेंट से 600 रुपए का मोबाइल खरीदा था, एक हफ्ते पहले जब बस स्टैंड पर फोन पर बात कर रही थी, तभी कॉलेज की एक लड़की बहाने से उसे होस्टल ले गई जहां 24 घंटो तक उसके साथ मार-पीट कर उसे न्यूड किया गया। कॉलेज स्टूडेंट की ऐसी हरकत पर तो हैरानी होती ही है, लेकिन हद तब पार हो गई जब कॉलेज प्रबंधन की ओर से पीडित छात्रा को मदद नहीं मिली, साथ ही पीडिता के माता-पिता पर 18 हजार 6 सौ रुपए का जुर्माना लगाया गया, और 24 अगस्त तक जुर्माना भरने की मांग की है।

कॉलेज की इन हरकतों को देख पीडिता के पिता तंग आकर बेटी के साथ आत्महत्या करने की धमकी देने लगे। कॉलेज से किसी भी तरह की कोई मदद ना मिलने पर पीडिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी, जहां उसने हॉस्टल की वार्डन और कई स्टूडेंट के खिलाफ केस दर्ज कराया। ये केस मयूर पटेल महिला थाना में दर्ज कराया गया है। बता दें, कि पीडिता के पिता एक किसान हैं, जिनकी पांच बेटियां हैॆ अपने पांच बेटियों पालना एक किसान के लिए बेहद ही मुश्किल बात है, लेकिन अपनी बेटी की ऐसी बदनामी देख उस पिता का गर्व टूट गया है और आत्महत्या करने के लिए तैयार है। पीडिता के पिता का कहना है कि..

‘अब मेरी बेटी का क्या होगा, बडे अरमानों से पांच बेटियों को पाला-पोसा ता, सब एक झटके में खत्म हो गया, गांव में किसी को मुंह दिखाने के काबिल नहीं रहा, मेरी बेटी का क्या होगा, किस मुंह से कॉलेज जाएगी, खेती का समय है इस परेशानी में खेती भी नहीं कर पा रहे हैं, चोरी का आरोप लगाकर नंगा कर पिटाई करना और जुर्माना लगाना कैसा इंसाफ है’

Loading...