लोकसभा चुनाव 2019 की ये पारी वाकई ऐतिहासिक रही, एक ओर बीजेपी ने एक ऐतिहासिक जीत कायम की तो दूसरी ओर चुनावी इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ जब बीजेपी ने कांग्रेस से ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ा हो. कभी बीजेपी और कांग्रेस की जंग ने इस चुनावी सफर को दिलचस्प बनाया तो कभी आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन के मुद्दे को लेकर घमासान तेज होता नजर आया. लेकिन चुनावी नतीजों के सामने आने के बाद से ही कांग्रेस औंधे मुंह पड़ी है. लेकिन लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को मिली करारी हार से पार्टी के नेता तो सदमे में है ही साथ ही उनके फैन्स भी काफी परेशान नजर आ रहे हैं.

जरुर पढ़ें:  राफेल मामले में पुनर्विचार याचिकाओं पर सुनवाई पूरी, सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

ताजा मामला सामने आया है कांग्रेस के जाने माने नेता और मध्य प्रदेश के गुना से कांग्रेस उम्मीदवार रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर. जी हां सिंधिया चुनाव भले ही हार गए हों लेकिन उनके फैन्स के बीच उनकी दीवानगी आज भी वैसे ही वरकरार है. दरअसल मध्यप्रदेस के गुना में सिंधिया के एक फैन पर उनकी दीवानगी कुछ इस कदर सवार है कि फैन ने अपने सीने पर सिंधिया की तस्वीर गुदवाई है. और केवल इतना ही नही सिंधिया के फैन ने उनकी हार से दुखी होकर ये संकल्प लिया है कि वो पांच साल तक न तो शर्ट पहनेंगे और न ही चप्पल.

जरुर पढ़ें:  सेना से जुड़े इन मु्द्दों ने 6 महिने पहले बनाया पीएम मोदी के लिए माहौल.....

चर्चाओं में छाने वाले इस शख्स का नाम है रुपेश शर्मा, जो कि गुना संसदीय क्षेत्र से पार्टी का कार्यकर्ता हैं और सिंधिया के प्रशंसक हैं. बताया जा रहा है कि रविवार को जब सिंधिया अपने संसदीय क्षेत्र के दौरे पर पहुंचे और कार्यकर्ताओं की बैठक बुलाई तब रूपेश शर्मा भी उस बैठक में शामिल हुए थे. उन्होने न तो शर्ट पहनी थी और न ही चप्पल. वही जब मौके पर मौजूद संवाददाताओं ने उनसे सीने पर सिंधिया की तस्वीर गुदवाने और शर्ट और चप्पल त्यागने की वजह पूछी, तो उन्होंने कहा कि सिंधिया उनके चहेते नेता हैं, इसलिए तस्वीर गुदवाई है. वहीं, उनको लोकसभा चुनाव में मिली हार से वो दुखी हैं, इसके चलते वो शर्ट और चप्पल नहीं पहनते हैं. यही नहीं रूपेश ने कहा कि आने वाले पांच साल तक इसी तरह रहेंगे.

जरुर पढ़ें:  मालदीव दौरे पर बिना नाम लिए पाक पर भड़के पीएम मोदी!

आपको बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया आम चुनाव में मध्यप्रदेश की गुना सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर बीजेपी उम्मीदवार कृष्ण पाल यादव के खिलाफ मैदान में उतरे थे. हालांकि वो इस चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार से हार गए थे. जब्कि गुना संसदीय क्षेत्र को सिंधिया राजघराने का गढ़ माना जाता है. लेकिन वावजूद इसके सिंधिया के फैन्स अब भी उनके  उतने ही दीवाने है. जिसका एक उद्हारण रूपेश शर्मा ने ही दे दिया.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here