महिला विकास को लेकर आज देश में जाहन नई नई फ़िल्में बनाई जा रही हैं, जैसे दंगल, पिंक , बेगमजान, लिपिस्टिक अंडर माय बुरखा आदि| ये फ़िल्में हमारे समाज में स्त्री विकास को लेकर, महिलाओ की छोटी छोटी समस्याओं को हमारे सामने रख रहीं हैं, वहीँ हमारा समाज शिक्षित होने की वजाय और हैवानियत अपना जाता रहा है|

Demo Pic

हरियाणा जैसे राज्यों में जहाँ लिंगानुपात बहुत कम है, में आज भी औरतों पर हो रहे अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं| हरियाणा में गैंगरेप की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। जींद में गैंगरेप के बाद मृत पाई बच्ची के साथ किस हद तक बर्बरता हुई, यह डॉक्टरों की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया है। रोहतक पीजीआई के डॉक्टर एसके दत्तरवाल ने बताया कि लड़की के शव की हालत देखकर उसके साथ हुए भयंकर यौन हमले का पता चलता है।

जरुर पढ़ें:  जमीन के अंदर 5 साल तक बिना पानी जिंदा रहती है ये मछली
Demo Pic

इधर राजधानी दिल्ली से सटे फरीदाबाद में भी कार में 22 साल की लड़की से गैंगरेप की वारदात हुई है। पानीपत केस में जहां पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, वहीं जींद और फरीदाबाद गैंगरेप के आरोपी अभी भी कानून की गिरफ्त से बाहर हैं।

 

Demo Pic

पानीपत में एक 11 साल की बच्ची के साथ भी इसी तरह की हैवानियत की गई है। हैवानियत की हद पार करते हुए आरोपियों ने बच्ची के शव के साथ भी दुष्कर्म किया। दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने एक आरोपी के घर से बच्ची के जले हुए कपड़े के बचे हिस्से और चप्पल बरामद की। पुलिस ने मामले की जांच के लिए एसआईटी के गठन का ऐलान किया है।

जरुर पढ़ें:  अब पेट्रोल पर ऑफर की भरमार है... बस आपको ये काम करना है
Demo Pic

पिछले एक सप्ताह मे गेंग रैप के तीन-तीन घटनाओं ने,जहां एक फिर से हरयाणा जैसे राज्य में महिलाओं की दयनीय स्थिति का पता चलता है और साथ में हरयाणा की कानून व्यवस्था पर भी कड़े सवाक पैदा कर रहा है|

ऐसे में सवाल यह उठता है कि जहाँ देश में इतने सारे आंदोंलन महिला विकास में लगे हैं, हरियाणा जैसे कुछ राज्यों में आज भी औरतों पर अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं|