देश की राजधानी में अगर आप रहते हैं या कभी रहे हैं, तो आपको भी इस दर्द से गुजरना पड़ा होगा, ट्रैफिक जाम की समस्या ऐसी है, कि इससे कोई नहीं बच पाया। यहां तक की केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गड़करी तक जाम में फंसे थे और इस पीड़ा जिक्र उन्होंने खुद एक टीवी शो के दौरान किया था। देश के कई हिस्सों में ट्रैफिक जाम एक ऐसी समस्या हो गई है, जिससे सुबह-शाम आम लोगों के साथ ही खास लोगों को भी गुजरना पड़ता है। घर से बाहर निकलते ही सड़क पर अगर कुछ दिखता है, तो सिर्फ रेड लाइट पर खड़ी गाडियां और ट्रैफिक जाम।

जरुर पढ़ें:  क्या आप भी रेस्टोरेंट में करते हैं ऐसी हरकतें?तो अब 'NO' करे ऐसी हरकतों को।
Demo pic- सड़पर लगा लंबा ट्रैफिक जाम

जाम की असली पीड़ा उनसे पूछिए जिन्हें ऑफिस जाना पड़ता है। आधे घंटे का सफर कभी-कभी दो-दो घंटों में पूरा होता है। और इस जाम की वजह से अमूमन आप ऑफिस लेट पहुंचाते हैं। फिर बॉस की डांट अलग से मिलती है। लेकिन करें भी तो क्या ट्रैफिक में कोई उड़कर तो ऑफिस जा नहीं सकता। लेकिन एक बंदे ने ट्रैफिक से बचने का नायाब तरीका खोज निकाला और वो बंदा, उड़कर तो नहीं लेकिन तैरकर आफिस जाता है। पढ़कर चौंक गए होंगे लेकिन ये सच है।

तस्वीर में दिखे रहे ये जर्मनी के बेंजमिन डेविड हैं। ये जाम से इतने परेशान हो गए थे, कि इन्होंने इससे बचने का एक अनोखा तरीका खोजा और तैरकर ऑफिस जाना शुरू कर दिया। ये अपना ऑफिस का सामान एक वाटरप्रूफ बैग में रखते हैं और निकल पड़ते हैं ऑफिस के लिए।  तैरने से एक्सरसाइज की एक्सरसाइज हो जाती है और ऑफिस भी समय पर पहुंच जाते हैं।

जरुर पढ़ें:  प्लास्टिक की बोतल आपको ऐसे बना सकती है मालामाल ।
ऑफिस जाने के लिए बैग में सामान पैक करते बेंजमिन डेविड

बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक जर्मनी के बेंजमिन डेविड हर सुबह अपना लैपटॉप, सूट और जूते वॉटरप्रूफ बैग में भरते हैं और Isar नदी में 2 किलोमिटर तैरकर ऑफिस जाते हैं, डेविड का कहना है कि..

‘ब्रिज पर खडे काफी लोग मुझे देखकर हंसते हैं, पर ऐसे स्विमिंग कर के जाना ट्रेफिक में फसने से ज्यादा आरामदायक है’