17वे लोकसभा के दूसरे सत्र की शुरूवात के साथ ही मोदी सरकार ने कई अहम फैसले लिए है. कुछ किसानों के हित में तो कुछ बहतर शिक्षा के मद्देनजर छात्रों के हित में. अब एक बार फिर देश की मोदी सरकार देश की जनता के लिए एक नई पहल करने जा रही है. जी हां इस बार मोदी सरकार की ये योजना भारतीय रेलवे को लेकर है. इस योजना के तहत  रेलवे जल्द ही आपको टिकट पर मिलने वाली सब्सिडी छोड़ने के लिए कह सकता है.

दरअसल यात्रा के लिए टिकट बुक करते समय आपको सब्सिडी छोड़ने का विकल्प मिलेगा. हालांकि सब्सिडी छोड़ने का विकल्प आंशिक या पूरी तरह होगा. रेल मंत्रलाय इस प्रस्ताव को आखिरी रूप दे रहा है. आपको बता दें कि मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले 100 दिन का जो एजेंडा है, उसी के तहत इस योजना को लागू किया जाएगा.

जरुर पढ़ें:  विधायक की बेटी के बाद एक और लड़की ने की अंतरजातीय शादी, वीडियो शेयर कर मांगी सुरक्षा..

इस प्लान के तहत रेलवे यात्रियों से अपील करेगा कि बेहतर रेल सुविधाओं के लिए टिकट पर मिलने वाली सब्सिडी छोड़ने का विकल्प चुने. क्योंकि सब्सिडी छोड़ने का सीधा असर आपके किराय पर होगा. अब जैसा कि आप जानते ही होंगे कि जब आप रेलवे रिज़र्वेशन कराते हैं तो आपके टिकट पर लिखा होता है, ‘क्या आप जानते हैं कि आपके किराये का 43 फ़ीसद देश के आम नागरिक वहन करते हैं.’ यानी कि रेल मुसाफिरों के सफर पर रेलवे 43 फ़ीसदी की सब्सिडी देती है. यह सब्सिडी आम जनता के टैक्स के पैसे से दी जाती है.

लेकिन इस अभियान के तहत मोदी सरकार देश की जनता से वो सब्सिडी छोड़ने की अपील करेगी. बता दें कि यह अभियान कुछ उसी तरह का होगा जिस तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गैस सिलेंडर पर सब्सिडी छोड़ने का बयान चलाया था और जिसकी वजह से सरकार को हर साल करोड़ों रुपए की बचत हुई थी. हालांकि सरकार की ओर से कहां गया था कि गैस सिलेंडर पर सब्सिडी छोड़ने पर गांव में किसी एक परिवार को एक सिलेंडर मिलेगा. टिकट पर सब्सिडी को लेकर ऐसी कोई योजना नहीं है. यानी आप जो सब्सिडी छोड़ेंगे उस पैसे से रेलवे अपनी सुविधाओं को आपके लिए और बेहतर बनाएगा.

जरुर पढ़ें:  वैलेंटाइन विक के मैके पर ओप्पो दें रहा अपने फोन पर भारी छूट,जानिए कहा मिल रही ये छूट
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here