अब तक आप हर-हर महादेव शिवरात्री, अमरनाथ यात्रा या बनारस नगरी में ही सुना करते होंगे, लेकिन अब ये गाना आप अपने फोन पर भी सुनेंगे। जी हां, अगर अब आप पॉर्न साइट्स खोलते हैं, तो आपको हर-हर महादेव सुनाई देगा। यानी अब आपको संस्कारी बनाने की पहल शुरु कर दी गई है, तो अब ज़रा बचकर पॉर्न साइट्स को खोलना।

हाल ही में हर हर महादेव एप बनाया गया है, जो आपको किसी भी पॉर्न कंटेंट और वेबसाइट खोलने पर रोक लगाएगा और सावधान करेगा। जिसे खोलते ही हर-हर महादेव गाना बजने लगेगा। बता दें कि, इस एप को बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी ऑफ मेडिकल साइंस ने तैयार किया है। जिसमें ये फीचर दिया गया है, कि अगर आपसे गलती से या जानबूझकर भी पॉर्न साइट खुल जाती है, तो आपके फोन में हर-हर महादेव सॉन्ग बजने लगेगा, जो आपको पॉर्न देखने की बुरी आदत से बचाएगा।

जरुर पढ़ें:  पति ने जुए में बीवी को लगाया दांव पर, जीतने वालों ने किया रेप
Har Har Mahadev App launched

आपको बता दें, कि न्यूरोलॉजी विभाग के डॉ. विजयनाथ मिश्रा के नेतृत्व में ये एप बनाया गया है, ऐप को बनाने में करीब 6 महीने का वक्त लगा। एप फिलहाल 3,800 साइट का डेटा है। यानी जिन पॉर्न साइट का डाटा एप में फिक्स्ड है, वो आपको उन साइट्स को खोलने से रोकेगा। फिलहाल इस एप मेें अभी सिर्फ हिन्दू भजन डाले हैं। लेकिन आगे का प्लॉन ये है कि, इसमे धर्मों के हिसाब से अलग-अलग गीत डाले जाएंगे। यानी अगर कोई मुस्लिम इस एप को खोलेगा,तो अल्लाह हो अकबर सुनाई देगा। यानी आपको पूरा संस्कारी बनाने की तैयारी हो रही है।

जरुर पढ़ें:  क्या आप भी सफर में ऐसे बैठते हैं? तो सुधार ले अपनी हरकत
Har Har Mahdev App launched

इस एप की सोशल मीडिया पर जानकारी मिलने के बाद कई लोग इसकी तारीफ कर रहे हैं, वही कई लोग इसका मजाक भी बना रहे हैं। यहां, तक की बीएचयू स्टूडेंट भी इस एप का मजाक बना रहे हैं और कह रहे हैं, कि जबसे इस एप के बारे में पता चला है, तब से इसका मजाक बनाने में बिलकुल कसर नहीं छोड़ी है। उनका कहना है, कि ये हमें जबरन संस्कारी बनाने की कोशिश की जा रही है और अच्छा है, कि अबतक ये एप स्टूडेंट्स के लिए कंपल्सरी नहीं की गई है। वहीं, कुछ लोग ये सवाल भी करते नज़र आ रहे हैं, कि जब मेडिकल साइंस एप बनाने लग गया है, तो आईटी क्या कर रही है?