पति और पत्नी का रिश्ता दुनिया का सबसे पवित्र रिश्ता माना जाता है। ये रिश्ता विश्वास और यकीन की नींव पर ही टिका होता है और इस रिश्ते में जब विश्वास टूटता है, तो इंसान भी टूट जाता है और अपना आपा खो देता है। फिर वो सही गलत का फर्क भूलकर सिर्फ वही करता है, जो उसे बेहतर लगता है। ऐसा ही कुछ इस फौजी के साथ भी हुआ, जिसके लिए उसके रिश्ते की दूरियों ने उसे वो करने को मजबूर कर दिया,जिसने दो जिंदगियों के साथ ही पूरे परिवार को तबाह कर दिया।

फौजी अकाश सिंह और पत्नी निकिता सिंह

मामला छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा जिले से सामने आया है, जहां 17 अगस्त की रात एक फौजी ने पहले तो अपनी बीवी को जान से मार डाला और फिर खुद सुसाइड कर जान दे दी। लेकिन इस दोहरे हत्याकांड के पीछे की वजह आपको हिलाकर रख देगी। दरअसल 23 साल का अकाश फौज में नौकरी करता है। लगभग चार महीने पहले ही उसकी शादी निकिता से हुई थी। लेकिन फौज की नौकरी की वजह से वो पत्नी को साथ नहीं ले जा पाया और उसे वक्त भी नहीं दे पाया। लेकिन वो अपनी पत्नी से मिलने लंबी छुट्टी के बाद लौटा तो उसे वो बात पता चली जिसने उसके दिमाग को हिलाकर रख दिया। दरअसल आकाश के घर लौटते ही उसकी पत्नी की तबीयत खराब हो गई आकाश उसे डॉक्टर के पास ले गया, डॉक्टर ने आकाश को बताया, कि निकिता तीन महीने की गर्भवती है। ये सुनते ही आकाश के पैरों तले से ज़मीन खिसक गई।

Suicide Note

आकाश ने अपनी पत्नी से इस बात पर सफाई मांगी, दोनों के बीत रात को जोरदार बहस हुई और आकाश में टेलफोन के तार से निकिता का गला दबाकर उसे मौत के घाट उतार दिया। और खुद रेलने ट्रैक पर जाकर जान दे दी। आकाश ने एक सुसाइड नोट भी लिख छोड़ा था, जिसमें उसने निकिता और अपने मरने की वजह हो निजी कारण बताया है। पुलिस पूछताछ में भी पड़ोसियों ने बताया, कि 17 तारीख को आकाश शऱाब के नशे में बाइक पर घूमता हुआ परेशान और तनाव में देखा गया था।

जरुर पढ़ें:  आखिर क्यों की प्रिंयका ने तीन बार सुसाईड करने की कोशिश ?
पत्नी निकिता सिंह

21 साल का आकाश जांजगीर जिले के पामगढ़ गांव का रहने वाला था जबकि निकिता उसे जिले के कसौंदी गांव की रहने वाली थी। दोनों की शादी 7 मई 2017 को हुई थी। आकाश थल सेना में तैनात था और चार दिन की छुट्टी लेकर अपनी बीवी से मिलने लौटा था, लेकिन ये छुट्टी उसके जीवन की आखिरी छुट्टी साबित हुई।

फौजी अकाश सिंह

आकाश ने रेलने ट्रैक पर कटकर अपनी जान दे दी। आकाश की सिर धड़ से अलग हो चुका था, घटना की जानकारी सुबह 4 बजे लगी जब स्टेशन मास्टर ने शव मिलने की खबर दी। घटना की सूचना पर जीआरपी चांपा ने शव की शिनाख्त शव की फोटो को वाट्सएप पर वायरल कर की । पूरे मामले में पुलिस और सुसाइड नोट से पता चला, कि अकाश को अपनी पत्नी के कैरेक्टर पर शक था,और अपनी की पत्नी प्रेग्नेंट रिपोर्ट देख अकाश का दिमाग और ज्यादा खराब हो गया, जिससे उसे बडा सदमा पहुंचा और इसी बात को वो सहन नहीं कर पाया और मर जाना ही ठीक समझा।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here