आजकल भाग-दौड़ की जिन्दगी में सभी पैसा कमाने की होड़ में अपनी हेल्थ पर बिलकुल ध्यान नहीं देते हैं। सभी एक-दूसरे को देख रेस में भागने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन किसी ने काम करने की दौड़ में ये नहीं सोचा होगा, कि ज्यादा काम और हेल्थ पर ध्यान ना देने से वो किस रास्ते पर पहुंच सकते हैं। ऐसा ही एक रिपोर्टर के साथ भी हुआ, जो अपने काम को लेकर बेहद ही सीरियस थीं और 159 घंटे तक ओवरटाइम करती थीं, लेकिन उसे ये ओवर टाइम करना भारी पड़ गया और भगवान को प्यारी हो गई।

Japan Repoter Miwa Sado

जी हां, 31 साल की लेड़ी रिपोर्टर की ओवर टाइम करने की वजह से मौत हो गई, आपको बता दें, कि जापान के टोक्यो मेंं एनएचके चैनल में एक मिवा सादो नाम की की रिपोर्टर थीं। जो एक महीने में लगातार 159 घंटे तक ओवर टाइम किया करती थीं। मौत से पहले सिर्फ उसने एक महीने में 2 छुट्टियां ली थी। मिवा अपने काम में इतनी खो गई थी, कि जब उनकी मौत हुई, तब भी उसके हाथ में फोन था।

जरुर पढ़ें:  पाकिस्तानी बहन ने पीएम मोदी को बांधी राखी, 36 साल पुराना है रिश्ता
Demo Pic-Work Pressure

ये पूरा मामला जुलाई 2013 का है, उस वक्त मिवा पॉलिटिकल न्यूज कवर किया करती थी। मिवा की मौत के एक साल बाद इस बात का खुलासा हुआ कि उनकी मौत ज्यादा काम करने की वजह से हुई है। उसे काम करते-करते हार्ट अटैक आया और मिवा की मौत हो गई। लेकिन अब जापान में इस मुद्दे को इसलिए उठाया जा रहा है क्योंकि मिवा के माता-पिता ने एक मुहिम छेड़ी है, ताकि ज़रुरत से ज्यादा काम करने वाले नियम को खत्म किया जाए। इतना ही नहीं, जिस चैनल के लिए मिवा काम करती थी, उस चैनल ने सीमा से ज्यादा काम करवाने के जापान के कल्चर के खिलाफ काफी अभियान चलाया था।

जरुर पढ़ें:  आईफोन-8 के लिए 17 साल की लड़की ने पार की हद, मिला सबक
Japan Repoter Miwa Sado

बात साल 2013 की बात है, जब जापान में टोक्यो असेंबली के चुनाव हो रहे थे। मिवा ने  चुनाव लगातार कवर किए और कड़ी मेहनत के कारण चुनाव के 3 दिनों के बाद उसकी मौत हो गई। मिवा की मां ने एक अखबार से बात करते हुए कहा कि ‘मेरा दिल ये सोचकर टूट जाता है, कि शायद वो आखिर समय में मुझसे बात करना चाहती थीं। मिवा के जाने के साथ ही मुझे लगता है, कि मेरा शरीर खत्म हो चुका है। अब बाकि बची हुई जिन्दगी में शायद हंस न पांऊ’.

Tokyo News Channel NHK

आपको बता दें, कि जिस चैनल में मिवा काम करती थी, उनकी मौत के बाद एनएचके चैनल ने अपनी वर्किंग कंडीशन को ठीक करने की बात कही है, चैनल के प्रेसिडेंट रियोची यूएदा ने कहा कि..

‘हम मिवा जैसी प्रतिभाशाली रिपोर्टर को खोकर काफी दुखी है खासतौर पर ये जानकर कि उसकी मौत ज्यादा काम करने की वजह से हुई है। हम उनके माता-पिता के साथ सुधारों के लिए काम करते रहेंगे’

Loading...