धर्म का मजाक बनाने वाले और लोगों की धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाने वाले बाबा अब एक-एक करके जेल की सलाखों के पीछे पहुंच रहे हैं। पहले आसाराम, फिर रामपाल और अब गुरमीत राम रहीम बलात्कारी बाबाओं की लिस्ट में शामिल हो गया है। इन बाबाओं की पोल खुलने के बाद अब सोशल मीडिया पर नए-नए बाबाओं के कारनामे सामने आने लगे हैं, कोई नदी में नहाते हुए लड़की को छेड़ते बाबा को बनेकाब कर रहा है, तो कोई मंदिर में छेड़खानी करने वाले बाबा को। लेकिन इस बीच सोशल साइट पर एक किसिंग बाबा भी सुर्खियों में है और ये खूब वायरल हो रहा है। इस बाबा की दो फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है, जिसमें बाबा और एक लड़की साथ में नज़र आ रहे हैं।

जरुर पढ़ें:  ‘हिंदू आतंकवादी हैं सीएम योगी आदित्यनाथ’ अमरीकी अखबार की खुराफात
Viral photo

तस्वीरों में  दिख रहा बाबा सोशल मीडिया पर किसिंग बाबा के नाम से फेमस हो रहा है। सोशल मीडिया पर भगवाधारी बाबा और उसके साथ एक युवती किसी हाईवे पर कार के सामने खड़े होकर किस करते नज़र आ रहे हैं। वायरल हो रही ये फोटोज़ कितनी सच है, या झूठ इसका सच जाने बिना लोग इन तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल कर रहे हैं। लेकिन अब दावा ये किया जा रहा है, कि ये तस्वीरें झूठी हैं और इसका दावा खुद तस्वीर में नज़र आ रही लड़की ने किया है। जी हां, अब ये युवती खुद सामने आई है, और इन तस्वीरों को एक साजिश और झूठ बता रही है।

जरुर पढ़ें:  ऐश्वर्या राय ने मुंडवाया सिर, सोशल मीडिया पर वायरल फोटो की पड़ताल
बाबा के साथ लड़की की वायरल तस्वीर

आपको बता दें, कि फोटो में दिख रही युवती दिल्ली की रहने वाली है, जिसने 30 अगस्त को हौज खास थाने में जाकर फोटो के पीछे का सच बताया है, युवती ने कहा, कि दोनों फोटोज़ झूठी है। लड़की ने इसके पीछे साजिश करार दिया और बताया, कि कुछ दिनों बाद उसकी शादी होने वाली है, इसलिए बदनाम करने के लिए इन झूठी तस्वीरों को वायरल किया जा रहा है। युवती ने अपने पड़ोसी पर झूठी फोटो वायरल कराने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने बताया, कि उसके पड़ोस में रहने वाले युवक से उसकी कुछ समय पहले लड़ाई हुई थी तभी उसने उसे धमकी दी थी, कि हर जगह तेरे पोस्टर लगा देंगे। इसलिए युवती का आरोप है, कि उसके पड़ोसी ने ही ये झूठी तस्वीरें वायरल कर उसकी शादी तुड़वाने की कोशिश की है। लेकिन युवती ने ये भी कहा है, कि वो इस बाबा को भी जानती हैं, और उनका नाम हरेमल दास हैं।

जरुर पढ़ें:  'मुस्लिम लड़कों ने आरएसएस समर्थक हिन्दू महिला को मारी गोली'-वायरल वीडियो

हालांकि बाबा की ये फोटोज़ सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद, आश्रम प्रबंधक ने बैठक कर बाबा को दोषी पाया और उसे आश्रम से बाहर कर दिया है, ताकि बरसो पुराने आश्रम की बदनामी ना हो। लेकिन वही बाबा अपने आप को बेकसूर बता रहा है और उसे इसमें किसी की साज़िश दिख रही है। खैर दोनों एक-दूसरे को बेकसूर बता रहे हैं, लेकिन मामले की सच्चाई फोटो की जांच के बाद ही सामने आ पाएगी।

Loading...