लड़की की अगर बदनामी हो तो उसके लिए वो ज़हर बन जाता है, और बदनामी अगर परिवार में ही हुई हो, तो सबसे नज़रें मिलाना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में एक लड़की के लिए शायद मौत का ही रास्ता बचता है। ऐसा ही एक सनसनीखेज मामला सामने आया है, जहां एक भतीजे ने अपनी चाची के साथ कुछ ऐसा किया, कि उसे मौत के अलावा कोई रास्ता नहीं सूझा और उसने जहर खाकर जान दे दी।

समाज में भतीजे को बेटे का दर्जा दिया जाता है, लेकिन हवस की भूख ने इस रिश्ते को भी तार-तार कर दिया है। मामला मध्यप्रदेश के भोपाल का है, जहां एक भतीजा अपने चाचा-चाची के घर पढ़ाई करने के लिए रहने आया था। चाचा-चाची ने उसे बड़े लाड़-प्यार से घर पर रखा था। लेकिन उन्हें क्या पता था, कि जिस लड़के में वो अपने बेटे का अक्स देख रहे हैं, उसके मन में कुछ और ही चल रहा है। भतीजे की गंदी नज़रें अपनी ही चाची पर थी, वो चोरी-छिपे चाची को देखता रहता, उनके नहाते हुए, कपड़े बदलते हुए वीडियो मोबाइल में बनाता और फिर उन्हें अकेले में देखता था। 

जरुर पढ़ें:  आधी रात को सड़क पर निकल आई लड़कियां और कहने लगी 'मेरी रातें, मेरी सड़क'

भोपाल में रहने वाली 36 साल की गीता, जिसके पति सिंचाई विभाग मे काम करते हैं, उनके बड़े भाई का बेटा गीता के घऱ पढ़ाई करने के लिए रहने आया था। गीता अपने भतीजे को अपने बेटे के समान मानती थी, लेकिन भतीजे की गंदी नज़र उसकी चाची पर थी। जिसने अपनी ही चाची की नहाते हुए और कपडे बदलते हुए वीडियो बनाई। जब इस बात का पता गीता और लड़के के चाचा को चला तो, भतीजे को घर वापस भेज दिया गया। लेकिन शायद उन्हें नहीं मालूम था, कि इसके इरादे इतने खतरनाक हैं। भतीजा अपनी हरकतों से बाज़ नहीं आया और उसने चाची के सारे अश्लील वीडियो सोशल मीडिया प्लेफाफॉर्म व्हॉट्सएप्प पर शेयर कर दी। 

जरुर पढ़ें:  भक्तों की गोद में नाचने वाली 'ग्लैमरस' राधे मां का खेल खत्म !

व्हाट्सएप्प पर वीडियो शेयर होते ही, ये तेज़ी से फैलने लगा, जिससे गीता की पूरे परिवार में बदनामी होने लगी। ये बदनामी गीता के लिए मानो जहर बन गई और वो इसे सहन नहीं कर पाई। गाती ने अपने ही घर में जहर खा लिया, तड़पती हुई गीता को परिवार वाले हॉस्पिटल ले गए लेकिन तब तक वो मर चुकी थी। 

मामला पुलिस तक पहुंचा, तो पुलिस को गीता के पास से सुसाइड लेटर मिला, जिसमें उसने इस सारे वाकये का जिक्र किया था। और अपने खुदकुशी की वजह को भी साफ किया था। अब पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। ये खबर हम सबके लिए सिर्फ खबर हो सकती है लेकिन ये बताती है संस्कारों की कमी और सामाजिक मूल्यों में होता पतन हमें किस राह पर ले जा रहा है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here