सोसाइटी या कॉलनी एक ऐसी जगह जहां सभी लोग प्यार से मिलजुल कर रहना पंसद करते हैं। लेकिन अगर उसी सोसाइटी में कुछ घर-परिवार के बच्चों के लिए बुरा बन जाए या उनकी रोजमर्रा की जिन्दगी में बाधा डाले, तो सोसाइटी के लिए उसकी शिकायत दर्ज कराना भी लाजमी हैं और बात सोसाइटी में अश्लील हरकतों की हो तो फिर कोई कितना भी बड़ा अफसर क्यों ना हो उसे उसकी जगह दिखानी ही पड़ती है। 

खबर रांची के चेटर मोहल्ले की है, जहां पड़ोसी कई दिनों से एक घर से आने वाली अजीबोगरीब आवाजों से परेशान थे। इन आवाजों ने पूरे मोहल्ले को परेशान कर रखा था। आवाज़ें अश्लील थी इसलिए लोग पेरशान थे, क्योंकि इससे उनके बच्चों पर बुरा असर पड़ता था। लोगों को शक हुआ तो उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस को दी। शिकायत मिलते ही शाम के वक्त एसपी सिविल कपड़ों में थाना प्रभारी के साथ चेटर पहुंचे और बताए घर पर जाकर दरवाजा खुलवाया। दरवाजा खोलते ही, घर के अंदर से एक अधिकारी और महिला को अश्लील हालत में पकड़ा गया।

जरुर पढ़ें:  अनुश्री की ट्रेन डायरी- मुंबई लोकल में महिलाएं ऐसी जीती हैं लाइफ

आपको बता दें, कि घर के अंदर अश्लील हरकतें करते पकड़े गए, गुमला के लेबर सुपरिटेडेंट रंजीत कुमार थे और महिला उन्ही के ऑफिस की कर्मचारी थी। बताया जा रहा है, कि दोनों के बीच अफेयर चल रहा था और इसलिए साहब अपनी मैडम से मिलने रोड़ आ जाया करते थे। जिस घर में दोनों पकडे गए, पुलिस को तलाशी में वहीं से सेक्स वर्द्धक दवाएं और कंडोम भी मिले हैं। डीएसपी के मुताबिक ये अधिकारी पहले भी कई बार महिला के घर आ चुका है। महिला किराये के मकान में अकेले रहती है, इसलिए साहब को कोई परेशानी नहीं होती थी, लेकिन पड़ोसियों ने इनकी पोल खोल दी।

जरुर पढ़ें:  लड़का चोर या डकैत है, तभी शादी हो सकता है, वरना कुंआरा रहना पड़ता है

पूरे मामले में आरोपी श्रम अधीक्षक ने कबूल किया कि, महिला उनके दफ्तर में ही काम करती हैं और वो बीमार थीं, इसलिए उनसे मिलने वो वहां पहुंचे थे। पुलिस पर अधिकारी ने आरोप लगाया, कि उन्हें बेवजह तंग किया जा रहा है और पुलिस ने उनके साथ मारपीट भी की। अधिकारी ने महिला से अनैतिक संबंधों को नकार दिया है। वहीं महिला ने भी अधिकारी को अपना गार्जियन बताया है। महिला ने भी पुलिस पर ही प्रताडित करने का आरोप मढ़ दिया है  हांलाकि पुलिस मामले की जांच में जुटी है और जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन दे रही है।