राखी वैसे तो सिर्फ एक रेशमी धागा है, लेकिन जब ये कलाई पर बंध जाती है, तो रक्षासूत्र बन जाती है। इसकी खासियत ही ऐसी है, कि किसी अनजान के हाथ पर भी आप इसे बांध दे, तो वो उसी पल अपना हो जाता है। और इन्हीं अपनों का भाई-बहनों का त्योहार है राखी, जिस दिन सारी बहने अपने भाइयों के हाथ पर रक्षासूत्र बांधकर उनकी लंबी उम्र और रक्षा की कामना करती है और बदले में भाई उसकी रक्षा का वचन देता है। ऐसे ही प्रधानमंत्री मोदी को एक अनजान महिला ने राखी बांधकर अपना भाई बना लिया है। और वो भी पूरे 36 साल पहले और तब से वो मोदी की राखी बांधते आ रही हैं। और पीएम मोदी की ये बहन पाकिस्तान से हैं।

जरुर पढ़ें:  प्रिंसिपल ब्लैकमेल कर छात्र को सेक्स के लिए कर रही थी मजबूर, छात्र ने किया ये...
पीएम मोदी और पाकिस्तानी बहन कमर मोहसिन शेख

भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते भले ही बिगड़ते और बनते नज़र रहते हैं, लेकिन इन सब लड़ाइयों को एक तरफ कर, पाकिस्तान की कमर मोहसिन शेख देश के पीएम मोदी के साथ 36 से रक्षाबंधन मना रही हैं। और इस साल भी वो मोदी जी के लिए राखी लेकर दिल्ली पहुंची हैं। कमर पीएम को राखी बांधने को लेकर बेहद उत्साहित दिख रही थीं। रक्षा बंधन के मौके पर पीएम को राखी बांधने की खुशी को जाहिर करते उन्होने कहा कि..

‘उन्होने पहली बार पीएम मोदी को राखी बांधी थी, तब वो आरआरएस के कार्यकर्ता थे और आज अपनी मेहनत से वो देश के पीएम हैं’

कमर मोहसिन शेख

पीएम मोदी जितना अपने काम को अहमियत देते हैं, उतना ही रिश्तों को भी, तभी रक्षाबंधन के मौके पर अपनी बहन से राखी बंधवाना नहीं भूले और दो दिन पहले ही अपनी बहन को फोन कर इसकी खबर भी दे दी। कमर शेख ने बताया, कि इस बार उन्हें लगा था, कि पीएम मोदी बेहद व्यस्त होंगे, लेकिन पीएम मोदी ने अपनी बहन को दो दिन पहले ही फोन कर दिया था।

जरुर पढ़ें:  कॉलेज की लाइब्रेरी में बैठकर लव लेटर लिखा करते थे बराक अबोमा
प्नधानमंत्री नरेंद्र मोदी

आपको बता दें, कि कमर शेख मूल रुप से पाकिस्तान की है, जो शादी के बाद भारत में रही रहती हैं। भारत में उनके ससुराल वालों के अलावा उनका और कोई नहीं था। लेकिन जब वो दिल्ली अपने पति के साथ आई तो मोदी से मुलाकात हुई थी, तब उन्होंने पूछा था कैसी हो ‘बहन’?, बस उसी दिन से कमर मोदी जी को अपना भाई मानती हैं और हर रक्षाबंधन पर उनको राखी बांधती है।

Loading...