दिल्ली की गलियों में घूमते हुए या फिर भारत जैसे तंग देश की गलियों में घूमते हुए पूछने पर आपको सबकुछ मिल जाता है। कुछ नहीं मिलता तो हम गूगल से पूछ लेते हैं, और गूगल बाबा के पास तो हर सवाल का जवाब मौजूद होता है। कौन कहां है, किस जगह है, रास्ता भी बता देता है। लेकिन गूगल के पास एक सवाल का जवाब नहीं होता था। कि टॉयलेट कहां है ?

भई दोस्त जब घूमने निकलते हैं, तो खूब खाते-पीते हैं और फिर इसके बाद जो प्रेशर तो बनता है, तो पहली समस्या यही होती है, कि टॉयलेट कहां हैं ? फिर मेट्रो स्टेशन या किसी मॉल की शरण लेनी पड़ती थी या फिर किसी खोखे के पीछे या दीवार के आगे ही इंसान हलका हो जाता है। लेकिन मोदी जी के स्वच्छ भारत के बाद ये मुश्किल हो गया था। पता नहीं कौन किधर से आए और आपको दो चार सुनाकर चला जाए।

जरुर पढ़ें:  प्रिंसिपल ब्लैकमेल कर छात्र को सेक्स के लिए कर रही थी मजबूर, छात्र ने किया ये...

भारतीयों की इस समस्या को गूगल ने समझा और बता दिया इसका रास्ता। अगर अब आप दिल्ली में घूमने निकलते हैं या किसी काम से निकलते हैं और किसी गली या बाज़ार में आपका प्रेशर क्रिएट होता है, तो डरने की बात नहीं है। गूगल निकालिए और उससे पूछिए, गूगल आपको आपके आस-पास के सारे टॉयलेट का पता दे देगा। 

जी हां गूगल ने अपने मैप में दिल्ली के सारे टॉयलेट की लोकेशन को फिट कर दिया है, इसके बाद आपको टॉयलेट का पता किसी से पूछने की ज़रूरत नहीं है। बस आपको अपने अपने स्मार्टफोन में पब्लिक टॉयलेट या टॉयलेट टाइप करना होगा, और आपको गूगल आपके आस-पास के टॉयलेट के लोकेशन बता देगा। आपको बता देें, कि ये फीचर दिल्ली में बुधवार यानी 12 जुलाई शुरू किया गया है। 

जरुर पढ़ें:  हनीप्रीत के पकडे़ जाने पर मामा बोला ने दिया चौंकाने वाला बयान

NDMC ने लगभग 331 पब्लिक टॉयलेट गूगल मैप पर अपडेट कर दिए है जिन्हें गूगल मैप के ज़रिए असानी से सर्च किया जा सकेगा। ये स्कीम दिल्ली को क्लीन बनाने और पब्लिक प्लेस को साफ रखने के लक्ष्य से शुरु की गई है। इसपर नगर पालिका चैयरमैन नरेश कुमार ने बताया कि-

‘दिल्ली के शौचालय को गूगल मैप में अपलोड़ कर दिया गया है, ताकि लोग असानी से इन्हें ढूंढ़ सके, इन टॉयलेट को NDMC के मोबाइल ऐप्प ‘NDMC311′ में भी सर्च किया जा सकता है, तीन महिने में 41 पब्लिक टॉलेट को NDMC के ज़रिए गूगल मैप में अपलोड किया जाएगा, लोग टॉयलेट को यूज़ कर अपने एक्सपीरिंयस शेयर कर सकते हैं, उनके एक्सपीरिंयस पर ही टॉयलेट की फैसीलिटी बढ़ाई जाएगी’

Loading...