नई दिल्ली। पेट्रोल के लगातार बढ़ते दामों से परेशान जनता को एक और झटका लगा है। पेट्रोल के दामों में कोई कमी का फिलहाल दूर-दूर तक कोई गुंजाइश नहीं दिख रही है। लगातार बेलगाम होती कीमतों के बाद विपक्ष ने 10 सितंबर को भारत बंद की घोषणा की है।

देशभर में पेट्रोल और डीजल में लगी आग से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमतों में रिकॉर्ड स्तर पर बढ़ोतरी देखी गई। दिल्ली में पेट्रोल 39 पैसे की बढ़ोतरी के साथ 80 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है। ऐसा दिल्ली में पहली बार हुआ है।

जरुर पढ़ें:  4 दिन तक अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में कुलभूषण जाधव मामले पर चली सुनवाई खत्म,जानिए सुनवाई के दौरान क्या हुआ

वहीं देश की वाणिज्यिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल की ताजा कीमत 87.77 रुपए प्रति लीटर है। वहीं डीजल की बात करें तो दिल्ली में डीजल की कीमत 72.51 पैसे प्रति लीटर है और मुंबई में डीजल 47 पैसे की बढ़ोतरी के साथ 87.39 पैसे प्रति लीटर बिक रही है।

बता दें कि पिछले एक महीने में डीजल की कीमतों में 4 रुपए और पेट्रोल की कीमतों में 3 रुपए प्रति तक की बढ़ोतरी हो गई है। तेल की लगातार बढ़ती कीमतों को लेकर विपक्ष सरकार पर हमलावर हो गई है। कांग्रेस ने 10 सितंबर को पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के विरोध में भारत बंद एेलान किया है। कांग्रेस के इस भारत बंद में लेफ्ट का समर्थन भी हासिल है।

जरुर पढ़ें:  पेट्रोल पंप पर डीजल और पेट्रोल के अलावा ये होती है फ्री सेवाएं

हालांकि लगातार बढ़ रही पेट्रोल और डीजल के दामों पर केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सफाई देते हुए कहा है कि तेल की कीमतों में बढ़ोतरी अंतर्राष्ट्रीय कारकों की वजह से हो रही है। प्रधान ने कहा कि अब यह जरूरी हो गया है कि पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के तहत लाया जाए। दोनों अभी जीएसटी में नहीं हैं जिससे देश को करीब 15,000 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ रहा है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here