भारत जैसे देश में चमत्कार होना कोई नई बात तो नहीं है। यहां कभी भगवान की मूर्ति दूध पीती हैं, तो कभी मूर्ति की आंख से आंसू बहने लगते हैं। आए दिन यहां नए-नए किस्से और नई-नई कहानियां सुनने को मिलती रहती हैं। भारत के इन अनोखे चमत्कारों की चर्चा देश ही नहीं तो पूरी दुनिया में होती है। कुछ ऐसा ही चमत्कार एक बार फिर देखने को मिला है और ये चमत्कार हुआ है साईं की नगरी शिरडी में। इन दिनों सोशल मीडिया पर शिरडी साईं मंदिर का एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है, जिसमें ये दावा किया जा रहा है, कि यहां साईं बाबा ने प्रकट होकर भक्तों को दर्शन दिए, जिसके बाद यहां लोगों का तांता उमड़ पड़ा है।

जरुर पढ़ें:  सुप्रीम कोर्ट के पटाखे पर आए फैसले के पीछे तीन बच्चें हैं, जानें कौन हैं वो?
Sai Baba Temple

वैसे साईं मंदिर और चमत्कारों का रिश्ता बेहद पुराना है। पानी से दीपक जलाने वाले साईं की कहानी हम बचपन से सुनते आ रहे हैं। कहते हैं, शिरडी में बाबा की धूनी भी पूरे सौ साल से अनवरत जल रही है। अब जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसमें दावा किया जा रहा है, कि साईं मंदिर की दीवार पर साईं की छवि उभरी और बाबा ने सबको दर्शन दिए। इस वीडियो के वायरल होते ही, शिरडी में देशभर से भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। भक्तों का लगातार आना जारी है, जिसकी वजह से दो दिनों से मंदिर के कपाट भी बंद नहीं हो सके हैं। मंदिर पहुंचने वाले भक्त साईं के इस चमत्कार को देखकर बेहद भाउक नज़र आ रहे हैं।

जरुर पढ़ें:  अमेठी में प्रियंका का बीजेपी प्रत्याशी स्मृती इरानी पर बोला हमला, बोलीं- जूते बांटकर अमेठी का अपमान किया..
Shirdi Sai Baba

लोकल मीडिया में आई खबरों के मुताबिक बुधवार की रात की ये घटना है। शिरडी मंदिर कैंपस में ही द्वारका माई मंदिर की दीवार पर साईं बाबा की तस्वीर उभरकर सामने आईं, जिसका वीडियो भक्त ने बनाकर शेयर कर दिया। जिस दीवार पर ये छवि बनी है, उसे जादुई दीवार भी कहा जा रहा है। काले रंग की इस दीवार पर एक धुंधली सी छवी अलग से नजर आ रही है। इस आकृति पर फूलों की माला चढ़ाई गई है। बता दें, कि द्वारका माई वही मंदिर है, जिसके बारे में ये कहानी प्रचलित है, कि साईं बाबा ने यहां पानी से दीपक जलाए थे। मंदिर में अचानक भीड़ बढ़ जाने की वजह से मंदिर में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। व्हाट्सऐप पर इस खबर के वायरल होने के बाद यहां भगदड़ की स्थिति बन गई थी। पूरे मंदिर की निगरानी सीसीटीवी कैमरों के जरिये की जा रही है।

जरुर पढ़ें:  अनुच्छेद 35 ए पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई से पहले, जम्मू कश्मीर में सरकार कि बड़ी कार्यवाई
Shirdi miracle

वहीं, एक भक्त का दावा है, कि 2012 में भी प्रतिमा दिखने की अफवाह उड़ी थी। कई लोगों का तो ये भी मानना है, कि ये सिर्फ मंदिर में रखी साईं बाबा की मूर्ति का रिफलेक्शन है। मंदिर में लगी लाइटों की वजह से भी ये रिफलेक्शन हो सकता है। साई मंदिर ट्रस्ट के सीईओ का कहना है, कि यह मामला भक्तों की आस्था से जुडा हुआ है, इसलिए अभी इसमें ज्यादा छेड़छाड़ नही किया जा सकता।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here