पाकिस्तान की वायुसेना की ओर से भारत के खिलाफ एफ-16 लड़ाकू विमानों के उपयोग के मामले में अमेरिका की ओर से स्पष्टीकरण दिया जा सकता है. माना जा रहा है कि अमेरिका पाकिस्तान को कड़ी फटकार लगाने के मूड में है. विदेश सचिव की अमेरिका यात्रा के दौरान भारत ने अपनी चिंता से अमेरिका को अवगत कराया है. अमेरिका ने भारत को भरोसा दिया है कि सही समय पर वह इस मामले में अपनी राय जाहिर करेगा. सूत्रों ने कहा कि विदेश सचिव विजय गोखले की अमेरिका यात्रा के दौरान यह मुद्दा अमेरिकी प्रशासन के सामने उठाया गया.

भारत ने अपनी चिंता से अमेरिका को अवगत कराया. भारत ने अमेरिका को बताया है कि उसकी गैर सैन्य आतंकी अड्डों पर की गई कार्रवाई के जवाब में पाकिस्तान ने भारत के सैन्य अड्डों को निशाना बनाने का प्रयास किया. पाकिस्तान ने एफ-16 लड़ाकू विमान का इस्तेमाल किया. पाकिस्तान ने झूठ बोला, लेकिन भारत की ओर से इस संबंध में सबूत भी सार्वजनिक करते हुए उन एम्राम मिसाइल के टुकड़ों को दिखाया था जिनका इस्तेमाल एफ-16 में किया जाता है. अमेरिका को भी भारत की ओर से सबूत दिए गए थे. अमेरिका ने कहा था कि वह इनकी जांच कर रहा है.

जरुर पढ़ें:  कॉलेज में अपनी ही साथी को लड़कियों ने किया नंगा और तस्वीरें खींचकर वायरल कर दी

सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तान अभी भी दुनिया को बरगलाने का प्रयास कर रहा है कि भारत उस पर आक्रामक रुख अपनाए हुए है और भारत की ओर से हमला किया जा सकता है. लेकिन, पाकिस्तान की दलील कोई भी देश स्वीकार करने को तैयार नहीं है. भारत के जिम्मेदारी पूर्ण रवैये को विदेश सचिव की यात्रा के दौरान अमेरिका में सभी पक्षों ने स्वीकार किया. अमेरिका ने यह भी स्पष्ट किया है कि भारत के साथ उसके रिश्ते अलग और रणनीतिक रूप से अहम हैं.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here