डोकलाम विवाद के बाद बौखलाया चीन, घटिया और नीच हरकतों पर उतर आया है। भारत के लोग चीन में बना हुआ सामान इसलिए खरीदते हैं, क्योंकि वो सस्ता होता है लेकिन उसी सामान को बेचकर चीन न सिर्फ भारत से मोटा मुनाफा कमा रहा है, बल्कि भारत का अपमान करके उसे नीचा भी दिखा रहा है। दरअसल उत्तराखंड के अल्मोडा में जूतों की दुकान में ऐले जूते मिले हैं, जिन्हें तिरंगे वाले डिब्बों में पैक करके चीन ने भेजा है।

China shoes

मामला तब सामने आया जब एक दुकान में कुछ लोग जूते खरीदने गए, वो वहां डिब्बों पर तिरंगा देखकर चौंक गए और उन्होंने इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस जूतों के डिब्बों की तलाशी ली, तो पूरे कार्टन में तिरंगे के डिब्बे में लिपटे जूते ही मिले। दुकानदार ने बताया कि इसने जूतों की खेप मंगाई है, जिसे खोलने परइसके डिब्बों पर भारत का राष्ट्रीय ध्वज बना हुआ मिला। पुलिस ने दुकान से सारे जूतों के डिब्बों को जब्त कर लिया है और दुकानदार के खिलाफ एफआईआऱ दर्ज कर ली है। वहीं शुरूआती पूछताछ में पता चला है, कि धारानौला रोड पर बनी इस दुकान का मालिक बिशन सिंह बोरा इन जूतों को रुद्रपुर के थोक विक्रेता तमन्ना फुट वियर एजेंसी से ये जूते खरीद कर लाया था।

जरुर पढ़ें:  गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमले में कांग्रेस का हाथ होने का लग रहा है आरोप
China shoes

 

मामला कुर्मांचल अकैडमी प्राइमरी स्कूल के सामने धारानौला रोड पर स्थित दुकान में सामने आया था। दुकान के मालिक किशन सिंह बोरा के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के बाद पुलिस ने रुद्रपुर के तमन्ना फुटवियर के मालिक के खिलाफ भी राष्ट्रीय ध्वज अपमान निवारण अधिनियम की धारा-2 के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है, लेकिन इस घटना के बाद इलाके के व्यापारियों में चीन के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा है। जगह-जगह चीन के खिलाफ प्रदर्शन शुरू हो गए हैं।

Loading...