कोई चोरी, डैकेती, खून जैसे क्राइम करे, तो पुलिस उसे गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे डाल देती है, इस बात में कोई शक नही है, कि जो गुनाह करेगा वो जेल जाएगा। लेकिन बेजुबान जानवर क्या गुनाह कर सकते हैं और उन्हे गुनाह क्या है ये पता होगा? उसका कुछ करना भला कैसे एक क्राइम माना जा सकता है? लेकिन यूपी में 8 गधों ने कुछ ऐसा किया, कि पुलिस ने उन्हें जेल में डाल दिया, जिसके बाद अब उनकी रिहाई हुई है।

Jalaun(UP) Donkey Released From Jail

ये बात सुनकर आपको अजीब ज़रुर लग रहा होगी, कि भला गधों को जेल की सजा कैसे दी गई? अब तक इंसानों को सजा और जेल से रिहाई मिला करती थी, लेकिन अब गधों के साथ भी यही होने लगा है। बता दें, ये घटना कही और की नही बल्कि योगी अदित्यनाथ के राज्य उत्तर प्रेदश की है। जहां के जालौन जिले के 8 गधों का पहले सजा दी गई और फिर चार दिन बाद उन्हें जेल से रिहा कर दिया गया।

जरुर पढ़ें:  देवर को सेक्स के उकसाती थी भाभी, परेशान देवर ने उठाया ये खौफनाक कदम
Jalaun(UP) Donkey Released From Jail

आपको बता दें, कि कुछ दिनों पहले जेल मे हरियाली के लिए कुछ पौधे मंगाए गए थे। जिन्हें जेल के अंदर लगाना था। लेकिन बाहर टहल रहे, गधों ने इन सभी पौधों को खराब कर दिया। इस बात पर जेलर ने गधों को उरई जिले के जेल में डाल दिया। गधों के जेल जाने के बाद गधों के मालिक ने जेलर से काफी गुहाई लगाई, कि वो गधों को रिहा कर दें, लेकिन जेलर ने मालिक की बिलकुल नहीं सुनी।

Jalaun(UP) Donkey Released From Jail

गधों के मालिक की गुहार ना सुनने के बाद, स्थानीय नेता ने जेलर से गधों की रिहाई के लिए कहा, जिसके बाद जेलर ने  सभी गधों को चार दिन बाद रिहा कर दिया। ये नजारा देख सभी लोग हैरान रह गए। बता दें, जेलर ने ऐसा गधों के मालिकों को सबक सिखाने के लिए किया था। ताकि आगे से वो अपने गधों का ख्याल रखें।