क्रिकेट के महान बल्लेवाज और टीम इंडिया के जाने माने क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर को कौन नहीं जानता, क्रिकेट के सभी चाहने वाले उन्हें क्रिकेट का भगवान कहते हैं। यह सही भी है, क्योंकि ने अपने करियर में जितने रिकॉर्ड बनाए हैं, शायद ही विश्व का कोई बल्लेवाज आज तक ऐसे रिकॉर्ड अपने नाम कर पाया हो।सचिन जैसा न कोई था, न होगा।

Sachin With Son Arjun

पर इन दिनों सचिन के बेटे अर्जुन तेंदुलकर भी काफी सुर्खियों में छाए हुए हैं, वजह है अर्जुन का क्रिकेट प्रदर्शन। इन दिनों अर्जुन टीम इंडिया के क्रिकेटर्स क्लब से ऑस्ट्रेलिया में क्रिकेट खेल रहे हैं, जहां उन्होंने एक ऑलराउंडर के रूप में बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है।

जरुर पढ़ें:  बिग बॉस में ड्रामा करने के बदले मिलती है मोटी रकम, ये है घर के सदस्यों की फीस

सिडनी के क्रिकेट ग्राउंड में टी20 मैच में हांगकांग के खिलाफ खेलते हुए अर्जुन ने 27 गेंदों पर 48 रन की शानदार बल्लेबाजी तो की साथ में 4 महत्वपूर्ण विकेट भी अपने नाम किये।  हाल ही में कूच बिहार ट्रॉफी में पांच विकेट लेने वाले अर्जुन ने स्पिरिट ऑफ ग्लोबल चैलेंज में हिस्सा लिया और तेज 48 रन ठोकने के अलावा चार विकेट भी झटके।

सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर हुए इस मैच के बाद अर्जुन से जब उनके आदर्श खिलाड़ी के बारे में पूछा गया, तो उनका जवाब काफी चौंकाने वाला था।अर्जुन के आदर्श खिलाड़ियों की लिस्ट में उनके पिता सचिन तेंदुलकर और पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वसीम अकरम का नाम नहीं था। अर्जुन ने अकरम से तेज गेंदबाजी सीखी है, जबकि सचिन उन्हें बल्लेबाजी के टिप्स देते रहते हैं।

जरुर पढ़ें:  क्रिकेट के यो-यो टेस्ट के बारे में पता है ? हर खिलाड़ी को पास करना होता है अनिवार्य
Demo Pic

अर्जुन ने कहा, ‘मुझे बचपन से ही तेज गेंदबाजी करना बहुत पसंद है। मिशेल स्टार्क और बेन स्टोक्स मेरे रोल मॉडल हैं। मैं कभी दबाव नहीं लेता हूं, जब गेंदबाजी करता हूं तो उसमें अपना सबकुछ अपना झोंक देता हूं और जब बल्लेबाजी करनी होती है, तो इस पर ध्यान देता हूं कि किस गेंद पर शॉट खेलना है और किसे छोड़ना है।

Micheal Stark And Ben Stokes

मिशेल स्टार्क ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज हैं और दुनिया के सबसे अच्छे गेंदबाजों में उनका नाम शामिल है, जबकि बेन स्टोक्स इंग्लैंड के ऑलराउंडर हैं जिनका प्रदर्शन बल्लेवाजी में तो काफी अच्छा रहा है, साथ में बॉल से भी वो अपना कमाल दिखा चुके हैं।