कल से शुरू होने वाले 3 टेस्ट मैचों की श्रंखला के लिए भारतीय टीम ने पूरी तरह से तैयारियां कर ली हैं, इस बार भारतीय टीम का मुकाबला उसके कड़े और दमदार प्रतिद्वंदी दक्षिण अफ्रीका से है, जहां भारतीय टीम में कोहली रन मशीन का काम करते हैं, वहीँ दक्षिण अफ्रीका की ओर से हाशिम आमला हर तरह की परिस्थतियों से पार पाने में सक्षम हैं।

Hashim Amla and Virat Kohli

लेकिन टीम इंडिया के खिलाफ सबसे बड़ी मुसीबत है द. अफ्रीका के स्पिन गेंदबाज केशव महाराज। केशव मूल रूप सेे भारतीय हैं। आपको यह जानकर बड़ा आश्चर्य होगा कि केशव के पिता भी क्रिकेट के बहुत अच्छे ओर मझे हुए खिलाड़ी थे।

जरुर पढ़ें:  अब गर्लफ्रेंड को मूवी दिखाना हुआ आसान, जानिए क्यों?
Keshav-Maharaj

एक वेबसाइट के मुताबिक किरण मोरे ने 1992 में ही केशव के क्रिकेटर बनने की भविष्यवाणी कर दी थी। केशव के पिता आत्मानंद आज उस दिन का याद करते हैं जब किरण मोरे उनके घर आए थे। केशव के पिता ने बताया कि ‘उन्हें याद है किरण ने केशव की हथेली पकड़ उसे देखते हुए कहा था कि वह भविष्य में क्रिकेट खेलेगा। उसके बाद हमने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और आज किरण के शब्द सच हो गए।

Keshav-Maharaj

केशव ने साल 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना डेब्यू किया। तबसे उन्होंने अपने देश के लिए दमदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने खेले कुल 14 टेस्ट मुकाबलों में 25 के बेहतरीन औसत से 56 विकेट चटकाए हैं। साल 2017 में तो केशव 48 विकेटों के साथ साउथ अफ्रीका के दूसरे सबसे सफल गेंदबाज़ भी रहे। लेकिन अब टीम इंडिया के साथ कल से शुरू होने जा रही कड़ी टक्कर में केशव रोल बहुत अहम रहने वाला है।

जरुर पढ़ें:  फ़ास्ट फ़ूड खाना आपके दिमाग को पंहुचा सकता है नुक्सान, इन बातों का रखें ध्यान
Indian Team

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच 3 टेस्ट मैचों की सीरीज़ का आगाज़ कल से केपटाउन में होना है। अब देखना यह होगा कि घरेलू मैदानों मेें टीम इंडिया ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है, क्या टीम इंडिया द. अफ्रीका के  खिलाफ भी अपना बेहतरीन प्रदर्शन  जारी रखेगी या    नहीं, इस बात का फैसला तो आने वाला वक्त करेगा लेकिन करोड़ों भारतीय दर्शक इस श्रंखला का बेशब्री से इंतज़ार कर रहे हैं|

 

Loading...