एक औरत के लिए इससे बड़ी खुशी की बात क्या हो सकती है, जब उसे ये पता चले, कि वो मां बनने वाली है। भले ही इस दौरान में उसे नौ महीने तक बच्चे को अपनी कोख में पालना पड़ता है। ये नौ महीने औरत के लिए किसी तप से कम नहीं होते। क्योंकि इस दौरान जो तकलीफ, जो पीड़ा और कष्ट उसे सहने होते हैं, उसे आप महसूस भी नहीं कर सकते। महिला के पेट में एक बच्चा हो तो, महिला अधमरी हो जाती है। उसके हाल बेहाल हो जाते हैं। लेकिन उसे बताया जाए, कि उसके पेट में 10 बच्चे हैं, तो उस तकलीफ का आप अंदाजा भर लगा सकते हैं, लेकिन चौंकाने वाली बात ये थी, कि इस महिला के पेट में बच्चे तो थे ही नहीं, जब जांच की गई तो उसके पेट में बच्चों की जगह मौत का समान निकला।

जरुर पढ़ें:  पैरेंट्स से ग्रैंडपेरेंट बनेगें ये स्टार, जानिए
mexico women

मेक्सिको की रहने वाली इस महिला का पेट देखकर कोई बच्चा भी बता सकता है, कि ये गर्भवती है और इसके पेट में एक नहीं बल्कि कई बच्चे हैं। क्योंकि सामान्यतौर पर गर्भवती महिला का पेट इतना बड़ा नहीं होता। इस महिला का पेट भी इतना बड़ा था, कि उसे देख डॉक्टरों के पसीने छूट गए। डॉक्टरों ने अंदाजा़ लगाया, कि महिला के पेट में कम से कम दस बच्चे होने चाहिए। लेकिन जब महिला की सोनोग्राफी की गई तो डॉक्टरों के होश उड़ गए और उनका सारा अंदाज़ा धरा का धरा रह गया। क्योंकि महिला के पेट में बच्चे तो थे ही नहीं, बल्कि उसके पेट में पल रहा था उसकी मौत का सामान।

दरअसल महिला को पेट दर्द की शिकायत होने पर उसे लेबर पेन समझकर महिला को अस्पताल में दाखिल किया गया था। लेकिन महिला ना तो प्रेग्नेंट थी और ना ही उसके पेट में दस बच्चे थे। बल्कि उसके पेट में 31 किलो का एक ट्यूमर था। जी हां महिला ट्यूमर का शिकार हो गई थी और यही उसे पेट बढ़ने की वजह थी। डेली मेल की खबर के मुताबिक 24 साल की महिला का मैक्सिको के जनरल हॉस्पिटल में ऑपरेशन हुआ। जिसमें महिला के पेट से ये बड़ा ट्यूमर ऑपरेट करके निकाला गया।

जरुर पढ़ें:  मान्यता दत्त का डांस वीडियो हुआ वायरल, फ्रांस में मना रही हैं छुट्टियां
mexico general hospital docter after opreation

सर्जरी करने वाले डॉक्टर एरिक हेनसन के मुताबिक, “महिला डाइटिंग पर थीं। लेकिन उनका वजन फिर भी लगातार बढ़ रहा था। कुछ ही महीनों में महिला का पेट इतना बड़ा हो गया, मानो उनके पेट में दस बच्चे पल रहे हो। लेकिन जांच में चौंकाने वाली रिपोर्ट आई। महिला के पेट में बहुत बड़ा ट्यूमर था। कैंसर की इतनी बेहद बड़ी गांठ थी।”

महिला का ऑपरेशन करते डॉक्टर

डॉक्टरों का कहना है, किं उन्हे सर्जरी करने में भी काफी परेशानी हुई। इतने बड़े ट्यूमर की वजह से महिला के पेट के अंदूरनी हिस्से को भी नुकसान पहुंचा है। ये गांठ पेट के 95 फीसदी हिस्से में फैल चुकी थी। इस बात का डर था, कि गांठ के अंदर जहरीला लिक्विड हो सकता था, जो शरीर के लिए काफी नुकसानदायक हो सकता था। वही डॉक्टर हेनसन ने बताया कि..

‘मैंने कई ऑपरेशन किए हैं। ट्यूमर के कई मामले देखें हैं। लेकिन इतना बड़ा ट्यूमर पहले कभी नहीं देखा। इतने बड़े ट्मूटर की सर्जरी बहुत जोखिम भरी हो सकती है।’ डॉक्टर के अनुसार दुनिया में पेट फाड़कर इतनी बड़ी सर्जरी पहले कभी नहीं की गई थी’

महिला का ऑपरेशन कई दिनों तक चला, जिसके बाद ट्यूमर को बाहर निकाला गया। ये कोई पहला मामला नहीं है, इससे पहले 1902 में भी 145 किलों के एक ट्यूमर की सर्जरी की गई थी। एक्सपर्ट की माने तो यूटरेस में होने वाला ट्यूमर आमतौर पर खतरनाक होता है।