क्या कोई झील लोगो की मौत का कारण बन सकती है यह सोचने वाली बात है लेकिन यह सच हो चुका है सूरजकुड़ रोड़ पर जहां अरावली पहाडियां मे एक झील है जो अब खूनी झील बन चुकी है इस खूनी झील में हर साल मरने वालो की संख्या बढ़ती जा रही है।

यह कोई नही जानता की वहा मौत क्यु हो रही है लेकिन वह एक खतरे की झील बन चुकी है जिससे के आसपास जाने में अब हर कोई कतराता है सूरजकुंड की खूनी झील ने पूरे इलाके में एक डर फैला दिया है जहां हर साल कोई ना कोई मौत की खबर आती रहती है पिछले सालो से कई मौत हुई हैं। और इस हफ्ते के बीते बुधवार को तीन लोग खूनी झील की मौत का शिकार हुए।जहां एक का पैर फिसलने से वह झील में गिर गया और दोनो उसे बचाने के चकर में गिर गए। लेकिन यह पहली बार नही हुआ इससे पहले इस झील के पास जो घुमने आया वह अपनी जान गवा बैठा हैं।

जरुर पढ़ें:  15 अगस्त को JNU में बवाल तय, आ रहा है ये खूंखार और जांबाज़ अफसर

तो आप भी सावधान हो जाए।सूरजकुंड की यह झील अब मौत को कुआ बन चुकी है यहां घुमने जाने से पहले सावधान रहे की कही इस झील का अगला शिकार आप ना बन जाए। झील में मरने वालो की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार इस झील में गिरने वालो नशे मे पाए जाते है और यह झील 250 से 300 फीट गहरी है जिस कारण यहां तैरना भी मुश्किल हो जाता है।यहां कई विज़िटर आकर अपनी जान गवा बैठते है।

जरुर पढ़ें:  अगर आप गूगल यूजर्स है, तो जानिए ये खास न्यू फिचर्स

झील में बढ़ते मौत की दुर्घटनाओं पर पुलिस प्रशासन कहती है की लोगो के लिए यहां साइन बोर्ड भी लगाए गए है लेकिन फिर भी इस झील के पास जाने की लोग भूल करते हैं।यहां मरने वालो की सख्यां तो बढ़ती जा रही है लेकिन झील के पास जाने वाला व्यक्ति क्यु इसका शिकार बन जाता है इसका कारण सामने नही आया है।

जरुर पढ़ें:  होममेड क्लींजर्स से अपनी स्किन रखे हैल्थी, जानिए कुछ खास उपाय
Loading...