राहुल गांधी ने 17वीं लोकसभा में पहली बार गुरूवार को किसानो का मुद्दा उठाया, और साथ ही मोदी सरकार पर आरोप भी लगाया कि उनकी सरकार के दौरान किसानो की सबसे बुरी हालत हुई.राहुल गांधी ने केंद्र सरकार से अपील की कि वे RBI से कहे कि बैंक बार-बार किसानो को कर्ज़ भुगतान का नोटिस न भेजे.

राहुल गांधी ने मोदी सरकार वार करते हए कहा कि, अपने 5 साल के कार्य काल में प्रधानमंत्री ने किसानों से उनकी फसल के दाम और कर्ज को लेकर कई वादे किए थे, लेकिन देश में किसानों की दशा खराब हुई है. राहुल ने केंद्र सरकार से ये अपील की कि वो जल्द से जल्द किसानों को किए उनके सभी वादे पूरे करें.

जरुर पढ़ें:  पड़ताल: वाई एस जगनमोहन रेड्डी ने बदला अपना धर्म ?

राहुल गांधी के आरोपो का जवाब देते हुए केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा- भारत में किसानो की हालत 2-5 सालों से नहीं बल्कि खराब हैं , उऩकी ये हालत लंबे समय तक सरकार चलाने वालों के समय से हैं. राजनाथ सिंह ने कहा कि जितने कार्य मोदी सरकार ने किसानों के लिए किए हैं, उतने शायद ही किसी ने किए हो.

Rahul Gandhi in Lok Sabha: The farmers in the country are suffering. I would like to draw the govt’s attention towards it. No concrete steps were taken in the Union Budget to provide relief to the farmers. (file pic) pic.twitter.com/ZkELSV6yzH

जरुर पढ़ें:  अभी नही मरा मसूद अजहर, सामने आया मसूद का ऑडियो क्लिप

— ANI (@ANI) July 11, 2019

मोदी सरकार ने किसानों कि आमदनी जितनी बढ़ोत्तरी करवाई उतनी किसी भी शासन में नहीं हुई.राजनाथ सिंह ने दावा करते हुए कहा कि मोदी सरकार ने पिछले 5 साल में फसलों के समर्थन मूल्य में जितनी बढ़ोतरी की है उतनी बढ़ोतरी आजादी के बाद किसी भी सरकार ने 5 साल में नहीं की थी.

राजनाथ सिंह ने राहुल गांधी को जवाब देते हुए कहा कि किसान जनधन योजना के तहत किसानों को 6 हजार रुपए की राशि देने का जो फैसला लिया गया उसे लागू भी किया गया. राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि किसानो की आय में 20-25 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है. उन्होंने कहा कि किसानों के लिए बहुत कुछ करना है और बहुत कुछ किया है और 5 सालों में किसानों की आत्महत्या की संख्या कम हुई है.

जरुर पढ़ें:  अगर अच्छी नौकरी पानी है तो, इन टिप्स को ज़रुर अपनाएं
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here