उत्तर प्रदेश में पत्रकार प्रशांत को रिहा हुए अभी एक दिन भी नहीं हुआ था कि एक और पत्रकार के साथ बदसलूकी, या यूं कहें इंसानियत को शर्मसार करने वाली बात सामने आई है. पत्रकार जिसे चौथे स्तंभ के तौर पर देखा जाता है. जो हर मुश्किल घड़ी में भी डाल बनकर खड़े रहते है. उनके साथ ऐसा बरताव किया जाने लगा है जैसे उन्होंने कोई चोरी की हो. उन्हें मारा जा रहा है उन्हें बिना किसी गलती के जेल में डाला जा रहा है. आखिर ये उत्तर प्रदेश में हो क्या रहा है. जी हां ये जो वीडियो आप देख रहे है उसमें पिटाता हुआ युवक पत्रकार है जिसका नाम अमित है. और उसकी गलती सिर्फ इतनी है कि वो शामली में पटरी से उतरी ट्रेन का वीडियो बना रहा था. फिर क्या था गवर्नमेंट रेल पुलिस में तैनात जीआरपी के जवानों को गुस्सा आ गया और सारा उस पत्रकार पर निकल गया और जवानों ने उसके साथ मारपीट शुरु कर दी ।

बताया जाता है कि शामली में धीमानपुरा रेलवे फाटक के समीप रात साढ़े आठ बजे ट्रैक बदलने के दौरान मालगाडी के दो डिब्बे पटरी से उतर गए थे. फाटक बंद होने से सड़क यातायात भी बाधित हो गया था. धीमानपुरा रोड पर भी जाम लग गया.इसी को कवर करने अमित वहां पहुंचे थे तब उनके साथ इस घटना को अंजाम दिया गया.
पीड़ित पत्रकार अमित शर्मा ने कहा- ‘कुछ दिन पहले रेलवे में गड़बड़ी को उजागर किया था. इसी वजह से रेलवे पुलिस ने निजी दुश्मनी निकालने के लिए मेरे साथ मारपीट की.’

साथ ही पत्रकार ने ये भी बताया कि जब उन्होंने कैमरा उठाने की कोशिश की तो वे हमला करने लगे. बाद में उन्होंने लॉकअप में मुझे बंद कर दिया, कपड़े उतारे और मुंह में पेशाब कर दिया.

जरुर पढ़ें:  आप भी यूज़ करती है हेयर रिमूवल क्रीम ? तो जरुर जानिए ये बातें

उत्तर प्रदेश में पुलिस ने एक पत्रकार के कपड़े उतारे, मारपीट की और उनके ऊपर पेशाब किया. ये घटना मंगलवार रात शामली में हुई. पत्रकार एक ट्रेन के बेपटरी होने को कवर कर रहे थे, तभी गवर्नमेंट रेल पुलिस (जीआरपी) के जवानों ने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी.

वहीं यूपी पुलिस ने पूरे मामले की निंदा की ही ओर एक्शन लेने की बात कहीं है, पर सोशल मीडिया पर भी इस घटना ने तूल पकड़ ली है. लोग जमकर यूपी में प्रशासन व्यवस्था को कोसते नजर आ रहे हैं ।

 

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here