किसी ने सही कहा है, कि सीखने की कोई उम्र नहीं होती है इंसान में अगर कुछ करने और सीखने की ललक हो तो, वो किसी भी उम्र में अपने सपनों को पूरा कर सकता है और इस बात को साबित किया है 73 साल के एक बुजुर्ग ने, जो कि अपने सपने को पूरा करने के लिए अपनी उम्र से 60 साल के छोटे बच्चों के साथ पढ़ाई कर रहा है।

Old man Studying in Fifth class

ये बुजुर्ग केलव पढ़ाई ही नहीं, स्कूल में पीटी भी करता है। इस बुजुर्ग का नाम लालरिंगथारा है, जो कि पांचवी कक्षा में पढ़ता है। लालरिंगथारा का जन्म भारत-म्यांमार के बॉर्डर पर हुआ था और इनके गांव का नाम खुआंगलेंग था। दरअसल, बचपन में ही लालरिंगथारा के पिता की मृत्यु हो गई थी। जिसके बाद इकलौता होने के कारण घर और उनकी मां की जिम्मेदरी उन्ही के सर थी। जिसकी वजह से उन्होंने स्कूली पढ़ाई छोड़कर, नौकरी के लिए दर-दर भटकना पड़ा।

जरुर पढ़ें:  आंखों से आपके शरीर के अंदर झांक सकती है ये लड़की, जानिये कौन हैं ये
Old man Studying in Fifth class

पढ़ाई छोड़ने के बाद लालरिंगथारा के सारे सपने, सपने ही बनकर रह गए। लेकिन कुछ समय बाद लालरिंगथारा अपना गांव छोड़ मिजोरम के न्यू रुआईकॉन गांव में पंहुच गए। यहां उन्हे चौकीदार की नौकरी मिली और वही पास में ही एक स्कूल था। जिसे देखकर लालरिंगथारा को अपने अधूरे सपने को पूरा करने के इच्छी जागी और पंहुच गए स्कूल में एडमिशन लेने के लिए। जहां लालरिंगथाना ने पांचवी कक्षा में एडमिशन लिया।

Old man Studying in Fifth class

आपको बता दे, कि अब लालरिंगथारा आसानी से पढ़-लिख लेते हैं और उन्हे अंग्रेजी से बड़ा लगाव है। इसलिए वो चाहते हैं कि अग्रेंजी सिखकर एक दिन वो अग्रेंजी भाषा में बोलें और लिखे।