एक कहावत है, दूसरों को बीवी सबको अच्छी लगती है। पार्टीज़ में आपने देखा भी होगा, लोग अपनी वाली को छोड़कर दूसरे की बीवी के साथ फोटो सेशन में लग जाते हैं या फिर फ्लर्ट करने लगते हैं, लेकिन ये सब मज़ाक तक सीमित होता है।  असल में कभी ऐसा नहीं होता, कि कोई आपकी बीवी को चुरा कर ले जाए और उससे शादी रचा ले।

ये सुनने में थोड़ा अटपटा और अजीब ज़रूर है, लेकिन हैं सच। दुनिया में एक जगह ऐसी है, जहां लोग दूसरों की बीवियों को चुराकर उनसे शादी कर लेते हैं। ये सब होता है अफ्रीका में, जहां वोडावी आदिवासी गोरिवाल नाम का एक फेस्टिवल मानते हैं। इस फेस्टिवल को वो खाने-पीने के साथ एंजाय करने की बजाय दूसरों की पत्नी को चुराकर मनाते हैं। इस त्यौहार को Western Africa के नाइजर में मनाया जाता है। वोडावी आदिवासी ये त्यौहार कई सालों से मना रहे हैं। आपको बता दें, कि वोडावी समुदाय के लोग खानाबदोश जिंदगी जीते हैं। ये खानाबदोश लोग पूरे साल रेगिस्तान में अपने दल के साथ-साथ भोजन और पानी की तलाश में घूमते रहते हैं। इस दल के लोग साल में सिर्फ एक बार बारिश के समय ही मिलते हैं।

जरुर पढ़ें:  दुनिया के अजीबोगरीब सांप, इनके बारे में जानते हैं आप?

कैसे मनाते है फैस्टिवल

इस दिन वोडावी आदिवासी समुदाय के सभी पुरुष अच्छे से तैयार होते हैं। उनको अपनी ही बिरादरी की किसी लड़की का दिल जीतना होता है, जिसके लिए वो कई तरीके अपनाते हैं। और इन तरीकों से वो किसी और की बीवी का दिल चुरा कर शादी कर सके।

सेक्स पावर को देखकर चुना जाता है, दूसरा पति

वोडावी समुदाय के लोगों का ये त्यौहार 7 दिन चलता है। इस त्योहार में कौन सी महिला किस पुरुष को चुनेगी इसका फैसला तीन महिलाओं का एक दल करता है। ये इस बात का फैसला पुरुष के सेक्सुअल पावर के आधार पर करता है। जिस पुरुष की सेक्सुअल पावर ज्यादा होती है, उसे बड़ी आसानी से दूसरे की बीवी मिल जाती है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here