16 दिसम्बर, आपके जेहन में ये तारीख तो होगी ही। वो मनहूस रात, जिसने दिल्ली के साथ ही देश के लोगों को सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर कर दिया था। उस रात एक निर्भया घिनौने रेप कांड की शिकार हुई थीं। उसके बाद जो हुआ सबने देखा, प्रदर्शन, बड़े-बड़े दावे और चुनावी जुमले लेकिन आज भी सड़क पर निकलने वाली लड़की पूरी तरह से मेहफूज हैं, ये हम इंश्योर नहीं कर सकते।

भारत में हर 15 मिनट में एक लड़की रेप का शिकार होती है, लेकिन बलात्कारियों को रोकने में न तो कानून कामयाब हो पा रहा है और न ही पुलिस का डर उन्हें रोक पा रहा है। बलात्कारी वारदात को अंजाम देते हैं और फरार हो जाते हैं,  लेकिन अब रेपिस्ट को जकड़ने के लिए कुछ और अनोखे और दर्दनाक तरीके खोज निकाले गए हैं।ये रही वो एंटी-रेप डिवाइज़ेस जिनके ज़रिए आप बलात्कारियों को फंसाकर सबक सिखा सकते हैं। और यकीन मानिए एकबार वो इस मशीन में फंस गए तो फिर उनका बचकर निकलना नामुमकिन हैं।

जरुर पढ़ें:  लड़कियों की लिपस्टिक का रंग बताएगी उनकी सेक्स की सोच

ऐंटी-रेप कंडोम

एंटी रेप कंडोम

आज तक आपने सुना होगा, कि कॉन्डम सिर्फ लड़के यूज करते हैं, लेकिन एंटी-रेप डिवाइज में, ये कॉन्डम लडकियों को यूज़ करना होता है। इसे लड़कियां अपने वजाइना में पहनकर रेपिस्ट के पेनिस पर वार कर सकेगी। इस कॉन्डम को Rape-axe कॉन्डम कहा जाता है। साउथ अफ्रिका में खोजे गया ये कॉन्डम इतना खतरनाक है, कि ये रेपिस्ट के पेनिस को जकड़ लेता है। इसके जकड़ते ही रेपिस्ट ना तो चलने की हालत में रहता है ना ही, टॉयलेट जा सकता है और तो और अगर रेपिस्ट इसे निकालने की कोशिश करेगा है तो इसकी ग्रिप और ज़्यादा मजबूत होने लगती है इसलिए मजबूरन रेपिस्ट को डॉक्टर से पास जाना ही पड़ता है और वहां से वो पहुंच जाता है हवालात।

एंटी रेप टैंपोन

एंटी रेप टैंपोन

इस डिवाइज को किलर टैपोन के नाम से भी जाना जाता है। इसे भी महिलाएं अपनी वजाइना में पहनती हैं। इस टेंपौन के अंदर स्प्रिंग के साथ एक पिन लगी होती है, जिस पर कोई भी वजन पड़ने पर ये उसे काट देता है।

जरुर पढ़ें:  Amazing- ट्रैफिक जाम से परेशान ये शख्स तैरकर जाता है ऑफिस

एंटी रेप जैकेट

एंटी-रेप जैकेट

इंडिया के लिए या गर्व की बात है, कि इस एंटी रेप जैकेट का अविष्कार इंडिया की ही दो लड़कियों ने मिलकर किया है। आपको बता दें, ये काई आम जैकेट नहीं हैं, बल्कि इसमें करंट डाला गया है। जैकेट में एक बटन  लगाया गया है जिसे दबाने पर जैकेट को छूने वाले को 110 वॉट का करंट लग सकता है। इस जैकेट को लड़कियां अपने डिफेंस के लिए पहन सकती हैं।

एंटी रेप अंडरवेयर

एंटी-रेप अंडरवेयर

इस अंडरवेयर डिवाइस का अविष्कार भी इंडिया के इंजीनियरों ने ही किया है, इसमें एंटी-रेप जैकेट की तरह ही करंट फिक्स किया गया है। जिसकी वजह से इसे छूने वाले को 82 वॉट का करंट लगना तय है। इतना ही नहीं, इसमें जीपीएस भी फिक्स किया गया है, जिससे पुलिस उस लोकेशन का पताकर वहां तक पहुंच सकती है।

जरुर पढ़ें:  शादी से पहले अगर डेट पर गए तो, खाने पड़ सकते हैं कोड़े,पढें खबर।

ऐंजल विंग बज़िंग ऐंटी रेप डिवाइस

एंटी-रेप एेंजल विंग बंजि़ग

लड़कियां इस डिवाइस को एक की-चैन की तरह अपने बैग में लटका सकती हैं। ये डिवाइस अलार्म का काम करती है। इस डिवाइज को खींचने पर इसमें 90 डेलीबल की आवाज़ आती है, जिससे आस-पास के लोगों को ये पता चल जाता है, कि आपके साथ कुछ गलत हो रहा है और इसकी आवाज़ सुनकर बदमाश भी भाग निकलते हैं।

एंटी रेप बकल (buckle)

एंटी-रेप बेल्ट

इस बेल्ट का अविष्कार 19 साल की एक स्वीडिश लडकी ने किया है। ये बेल्ट इतनी मजबूत है, कि इसे रेपिस्ट असानी से नहीं खोल सकता। इसे खोलने के लिए दोनों हाथों का यूज करना पड़ता है। इस बेल्ट का खोलना एक भूलभूलैया में खो जाने की तरह है। और जब रेपिस्ट अपने दोनों हाथों से इस बेल्ट को खोलने की कोशिश करें तब आप उसपर वार कर उसे ढेर कर सकती हैं।