आज के वक्त में अगर हर कोई परेशान है, तो उसकी वजह हैं, झड़ते बाल। बाल झड़ने की परेशानी ऐसी है, कि इंसान की खूबसूरती में ग्रहण लगाकर उसे गंजा तक बना देती है। किसके बाल झड़ने वाले हैं और कौन कब गंजा होने वाला है अगर ये सबको पता हो, तो वो वक्त रहते उसका इलाज कर लें लेकिन ये पता कहां चल पाता है। लेकिन अब एक ऐसा तरीका सामने आया है, जिससे आप ये जान सकेंगे, कि आपके बाल झड़ने वाले हैं या आप गंजे होने वाले हैं। जी हां, आप ये सुनकर हैरान रह गए होंगे, लेकिन ये सच है, क्योंकि गंजेपन का होना और ना होना, अब आपकी उंगलियां तय करेंगी।

जरुर पढ़ें:  88 साल की महिला से आए थे रेप करने, कहानी सुनकर दुम-दबाकर भागे
Demo Pic- Baldness in Men

आपको बता दें, कि वैज्ञानिकों ने प्रमाणित किया है, कि इंसान के हाथों की उंगलिया ये तय करती है, कि गंजापन आएगा या नहीं। आपको ये बात अजीब लग रही होगी, लेकिन ये दावा शत प्रतिशत सच है। लेकिन आप सोच रहे होंगे, कि उंगलियों से बालों की समस्या का क्या कनेक्शन और इसे कैसे पता करें तो बहुत ही आसान तरीका है, जिससे आप अपने बालों के झड़ने और न झड़ने के बारे में पता कर सकते हैं।

ऐसे पता करें-

अगर आपके हाथ की रिंग फिंगर आपके हाथ की पहली उंगली यानी इंडेक्स फिंगर से लंबी है, तो ये आपके बालों के झड़ने की बड़ी वजह हो सकती है। जी हां, जिस उंगली में आप रिंग पहनते हैं, अगर वो आपकी पहली उंगली से बड़ी है, तो इसका मतलब आप गंजे हो सकते हैं।

जरुर पढ़ें:  काफी मजेदार है 'हेयर स्ट्रेटनर' का इतिहास, 18वीं सदी में किया जाता था इस्तेमाल
Demo Pic- Fingers

जर्नल ऑफ कॉस्मेटिक डर्मोटोलॉजी में हाल में छपे अध्ययन में ये दावा किया गया है, कि उंगलियों का आकार गंजेपन का खतरा बन सकता है। दरअसल, इसमें पुरुषों में पाया जाने वाला टेस्टोस्ट्रोरॉन हॉर्मोन जिम्मेदार है। इसके लिए जिन बच्चों की रींग फिंगर बड़ी होती है, उनके माता-पिता को बचपन से अपने बच्चों के बालों का खास ध्यान रखना चाहिए। मुख्य शौधकर्ता मेहमत उनाल ने बताया कि, रिंग फिंगर की लंबाई मां के गर्भ में टेस्टोस्ट्रोरॉन हार्मोन पर निर्भर करती है। बता दें, कि मां की कोख में पल रहे बच्चे के बाल की जड़ और हाथों की उंगलिया प्रेग्नेंसी के आठ हफ्ते में ही बढ़नी शुरु हो जाती है।

जरुर पढ़ें:  तिरुपति बालाजी में चढ़ाए आपके बाल जाते हैं यहां, ब्लैक गोल्ड के नाम से होता है कारोबार।
Demo Pic-pregnant Lady

प्रेग्नेंसी के आठ हफ्ते का वही वक्त होता है, जब मां की कोख में टेस्टोस्ट्रोरॉन की पॉवर बढ़ जाती है। डॉक्टर उनाल के मुताबिक पहले शोधों में टेस्ट्रोस्टेरॉन की वजह से गंजेपन की परेशानी ज्यादातर पुरुषों में देखी गई है, यानी आपके हाथों की अनामिका उंगली अगर बड़ी है, तो यही आपके बालों के झड़ने और गंजेपन का असली कारण है।

Loading...