अमरीकी दिग्गज टैक्नोलाजी कम्पनी गूगल आए दिन किसी न किसी वजह से चर्चा में छाई रहती है.अब एक बार फिर ये कंपनी एक अनोखे कारण से सुर्खियों में आई है. जी हां गूगल को लेकर एक ऐसी हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है जिसे पढ़ कर आप चौंक जाएंगे. दरअसल गूगल के कर्मचारी न्यू यॉर्क की सड़कों पर लोगों से उनके फेस डाटा की मांग कर रहे हैं और बदले में उन्हें 5 डॉलर (लगभग 340 रुपए) का भुगतान किया जा रहा है.

फेस डाटा इकट्ठा करने से पहले गूगल के कर्मचारी लोगों की अनुमति लेते हैं और इस दौरान उनसे एक कंसेंट फॉर्म पर साइन भी करवाया जाता है. इसके बाद उनका चेहरा स्कैन किया जाता है और उन्हें गिफ्ट के रूप में 5 अमरीकी डॉलर अदा किए जाते हैं.

जरुर पढ़ें:  सुप्रीम कोर्ट में एक बार फिर टली राम मंदिर पर सुनवाई!

ZDNet ने अपनी रिपोर्ट में खिलासा करते हुए बताया है कि गूगल अपनी पिक्सल सीरीज़ के अपकमिंग स्मार्टफोन Pixel 4 में नेक्स्ट जेनरेशन फेस रेकॉग्निशन टेक्नॉलजी को शामिल करने वाली है जिसके लिए कम्पनी लोगों के चेहरे के डाटा को इकट्ठा कर रही है. नई तकनीक को फोन अनलॉकिंग को और बेहतर बनाने के लिए लाया जा रहा है.

फेस डाटा गूगल को देते समय यूजर्स ने अलग-अलग तरह कीं राय दी हैं. कुछ का कहना है कि वे लगभग पूरी जिंदगी गूगल से जुड़े रहे हैं और आगे भी रहेंगे और उनका डाटा गूगल के सर्वर में पहले से ही सेव है. वहीं कुछ यूजर्स ने कहा है कि डाटा प्राइवेसी किसी भ्रम की तरह है और अब चेहरे की फोटो तो बिल्कुल भी प्राइवेट नहीं रही है.

जरुर पढ़ें:  इंसानों को छोड़ योगी सरकार की पुलिस पेड़ों की सुरक्षा में लगी है!

पिछले दिनों एक स्क्रीन गार्ड की फोटो लीक हुई थी जिसे Pixel 4 का बताया जाता है. इस गार्ड के फ्रंट पैनल पर कई कटआउट दिखे थे. हो सकता है कि इनमें से एक गूगल की फेस अनलॉक टेक्नॉलजी के लिए रखा गया हो. नैक्स्ट जनरेशन फेस आईडी की मदद से गूगल अब एप्पल की नई टैक्नोलॉजी को टक्कर देगी.

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here