नई दिल्ली: अकसर आप लोगों में से ही कुछ लोग अपने पूजा घर में या ऑफिसों में अगरबत्ती ज़रुर जलाते होगें। लेकिन अगर आप ऐसा भगवान को खुश करने के लिए कर रहें,तो आपको बता दें की भगवान किसी अगरबत्ती से खुश नही होते है सचे दिल से याद करने से खुश होते है। लेकिन फिर भी कई लोग उनके लिए अगरबत्ती जलाते है। लेकिन क्या आपको ये पता है की  जिस अगरबत्वती को आप भगवान के लिएदला रहे है वही अगरबत्ती का धुंआ आपको मौत या गंभीर बिमारी का शिकार बना सकती है। अगर नही जानते तो, जानिए की कितना खतरनाक और जानलेवा होता है अगरबत्ती से निकलने वाला धुंआ..

अगरबत्ती से सांस का  संक्रमण होता है

हाल में हुए एक शोध में कहा गया है कि घरों में जलाई जाने वाली अगरबत्ती स्वास्थ्य के लिहाज से आपके लिए बेहद खतरनाक होती है। अगरबत्ती जलाने से हवा में कार्बन मोनोऑक्साइड फैलती है। जिसकी वजह से फेफड़ों में सूजन और सांस सबंधी कई दिक्कतें हो सकती हैं। ये धुआं धूम्रपान के समय फेफड़ों में जाने वाले धुएं की तरह ही होता है।

स्कीन की एलर्जी 

लंबे समय तक अगरबत्तियों का उपयोग करने से आंखों और स्कीन की एलर्जी हो जाती है। इसको जलाने से इसमें से निकलने वाला धुआं आंखों में जलन पैदा करता है। इसके अलावा संवेदनशील स्कीन वाले लोग जब इस धुएं के संपर्क में आते हैं तो उन्हें खुजली महसूस होने लगती है।

दिल को नुकसान

अगरबत्ती का धुआं दिल को नुकसान पहुंचाता है। लम्बे समय तक अगरबत्तियों का यूज़ करने से दिल की बिमारियों से होने वाली मृत्यु की दर 10% से 12% तक बढ़ जाती है।

गले का कैंसर ​

अगरबत्ती का उपयोग करने से गले का कैंसर भी हो सकता है। अगरबत्ती के धुएं से ऊपरी श्वास नलिका का कैंसर होने का ख़तरा बढ़ जाता है।

जरुर पढ़ें:  जूम करके देखने पर छेद बन जाते है जानवर, जानिए कैसे
Loading...