आप एक वक्त में कितनी रोटियां खा सकते हैं, तीन, छह, या आठ ? यकीनन आप तीन या चार से ज्यादा रोटियां तो नहीं खा पाते होंगे और अगर एक बच्चे की भूख की बात की जाए, तो मुश्किल से वो दो या एक रोटी खा लेते हैं, लेकिन आज हम आपको ऐसे बच्चों के बारें में बताएंगे, जिनकी उम्र तो है 3 से लेकर 7 साल तक, लेकिन वो एक वक्त में इतना खाना खाते हैं, जिसे सुनकर शायद आपका सिर भन्ना जाए।

Gujrat heaviest Kids

तस्वीरों में दिख रहे ये नन्हें बच्चे, खाने के मामले में कलयुग के कुंभकर्ण हैं। इनमें से एक बच्चा एक दिन में 18 रोटी, डेढ़ किलो चावल, दो कटोरी सब्जी, पांच बिस्कुट के पैकेट, 12 केले और एक लीटर दूध रोजाना लेता है। लेकिन इससे भी ज्यादा हैरान कर वाली बात ये है, कि इतना खाने के बाद भी बच्चों की भूख शांत नहीं होती है। सबसे बड़ी लड़की योगिता की उम्र 7 साल है और इसका वजन 45 किलो है, पांच साल की अनिशा 60 किलो वजनी है और 3 साल का हर्ष 25 किलो का है।

जरुर पढ़ें:  आंखों से आपके शरीर के अंदर झांक सकती है ये लड़की, जानिये कौन हैं ये
Heaviest kids with father and Mother

ये बच्चे दिन की शुरुआत में 30 रोटी तक खा जाते हैं और एक किलो सब्जी, लेकिन इनकी भूख फिर भी खत्म होने का नाम नहीं लेती है, इसी वजह से इन बच्चों की मां प्रांगना का पूरा दिन रोटी बनाने में ही बीत जाता है, क्योंकि जब इन्हें खाना नहीं मिलता है, तो ये तीनों जोर-जोर से रोना शुरु कर देते हैं। इसलिए इनकी मां का पूरा दिन किचन में खाना बनाते ही गुजरता है।

ये तीनों बच्चे गुजरात के रहने वाले हैं और इनके पिता रमेश भाई नंदवाने एक किसान हैं। बच्चों की भूख से इनके माता-पिता बेहद परेशान हैं और इनका इलाज मुबंई के फेमेस बेरयाट्रिक सर्जन डॉ. मुज्जफल लकड़ावाला से करा रहे हैं। बता दें, कि डॉ. लकड़ावाला वही डॉक्टर हैं, जिन्होंने दुनिया की सबसे वजनी महिला इमान अहमद अब्दुलाती का इलाज किया था, जिसका सोमवार की सुबह अबु धाबी में निधन हो गया है।

Loading...