नई दिल्ली : लड़कियां, जिन्हे पापा की प्यारी परी कहा जाता है, जो पापा की लाडली होती है जिन्हे घर की मुस्कान कहा जाता है आज उन्ही लडकियों की जिन्दगी को बाहर के लोग और घर परिवार वाले मौत से बतर सजा देने लगे हैं। निर्भया कांड के बारे में सुनकर आज भी रुह कांप जाती है की किस तरह उस लड़की को मौत की सज़ा दे, दी जिसका कोई गुन्हा ही नही था। क्या ऐसा ही है हमारा समाज जहां लड़कियों को सिर्फ अपने बॉडी पार्टस के कारण मौत से बुरी सजा दे दी जाती हैं।

लड़कियों की बॉडी ही केलव लड़को स अलग होती है ,होती तो लड़की भी एक इंसान ही है जो अपनी लाइफ से जुडे कुछ अरमानों को पूरा करने की इच्छा रखती हैं। लेकिन, यह समाज उसे मौत दे देता है बिना किसी कारण के और ये मौत भरी जिन्दगी सिर्फ जवान लड़कियो को ही नही दी जा रही है बल्कि देश की हर उस लड़की को दी जा रही जो सिर्फ और सिर्फ लड़की है।

लड़कियों को ऐसी जिन्दगी देने वाले सिर्फ वो लोग नही जो घर के बाहर है वो लोग भी शामिल है जो घर के अन्दर उसी लड़की को अपनी बेटी, बहन, बहु, बीवी मानते है। आप सोच रहे होगे की इसमे कौन सी नई खबर है ऐसा हर दिन खबरों में सुनने को मिलता है लेकिन एक 9 साल की लड़की ने अपनी टीचर को एक जवाब दिया जिसे सुनकर आप हैरान हो जाएगे।
9 साल की लड़की जो स्कूल में अपने आई-पैड में पॉर्न देख रही थी। लेकिन, जब उसकी टीचर ने उसे सवाल किया की तुम पॉर्न क्यो देख रही हो तो, उसने ऐसा जवाब दिया जिसे सुनकर टीचर भी दंग रह गई । लड़की ने कहा… की मेरे पापा भी मेरे साथ कुछ ऐसा ही करते है। तभी एक मनोविज्ञानिक से बात करके पता चला की। 9 साल की लड़की को पिछले एक साल से अब्यूज किया जा रहा था। काफी हैरान कर देने वाली बात है की लडकी के लिए उसका खुद का पिता ही अब शैतान बन गया था।
जरुर पढ़ें:  पति नपुंसक था, देवर और ससुर से बनाती रही संबंध और फिर एक दिन...
Loading...